शुल्क नियंत्रण अधिनियम का हो कड़ाई से पालन: दिनेश शर्मा

Samachar Jagat | Saturday, 15 Jun 2019 08:02:17 AM
Duty Free Regulatory Act: Dinesh Sharma

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा0 दिनेश शर्मा ने शुल्क नियंत्रण अधिनियम का कड़ाई से पालन किये जाने के शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। शर्मा ने कहा कि पाठ्यक्रम को समय से पूरा कराया जा सके इसके लिए शैक्षिक पंचांग तय करें और हर महीने अध्यापक को कितना पढ़ाना है इसको अभी से निर्धारित कर लिया जाय। उन्होंने कहा कि अंतर विद्यालय खेलकूद प्रतियोगिता कब होगी इसका निर्धारण किया जाए। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को अच्छे तरीके से मनाये जाने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक, विद्यालय के प्रबंधको के साथ बैठक कर कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार कर लें।

उप मुख्यमंत्री श्री शर्मा ने शुक्रवारर को यहां लोक भवन में उच्च शिक्षा एवं माध्यमिक शिक्षा के अधिकारियों को विभागीय समीक्षा बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। उन्होंने नकल विहीन परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए कहा कि जिस प्रकार से पिछले वर्षों नकल विहीन परीक्षा संपन्न कराई गई उसी प्रकार से आगे के लिए अभी से तैयारी प्रारंभ कर दी जाय, और उसमें किस तरह से और अधिक सुधार किया जा सकता है , इस दिशा में प्रयास किये जाने के निर्देश दिये।

उन्होंने सभी जिलों में पुरातन छात्र सम्मेलन सितंबर-अक्टूबर माह में संपन्न कराए जाने के निर्देश दिए। जिन विद्यालयों में परमानेंट अध्यापक नहीं हैं वहां पर सेवानिवृत्त शिक्षकों को संविदा पर रखकर पाठ्यक्रम को पूरा कराया जाए। उन्होंने इस अवसर पर लंबित वादों को निपटाए जाने के लिए जल्द ही अपीलीय प्राधिकरण का गठन किये जाने के भी निर्देश दिए।

इस अवसर पर शर्मा ने कहा कि मेधावी छात्र सम्मेलन में छात्र छात्राओं को पुरस्कार के तौर पर एक लाख रुपये और एक टेबलेट देने की घोषणा हुई है। साथ ही शिक्षक सम्मान पुरस्कार को और अधिक पारदर्शी बनाने के भी निर्देश दिए। विद्यालयों के उन्नयन के लिए निजी क्षेत्रों का भी सहयोग लिया जाए, लंबे समय से एक ही जगह पर कार्य कर रहे कार्मिकों के स्थानांतरण के बाद उन्हें उनके स्थानांतरित जगह पर ही कार्य करने के तथा उन्हें किसी कार्यालय से सम्बद्ध न किये जाने के निर्देश दिये। एजेंसी
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.