राजस्थान में बाढ़ से मचा हाहाकार, मानसून के विदा होने से पहले बारिश ने मचाया कोहराम

Samachar Jagat | Monday, 16 Sep 2019 03:28:06 PM
Fury caused by floods in Rajasthan, rain caused chaos before the departure of monsoon

इंटरनेट डेस्क। मानसून अपने विदाई के चरण में पहुंच रहा है। मानसून देश के कुछ हिस्सों में कहर भी बरपा रहा है। मध्य प्रदेश, राजस्थान और गुजरात में भारी बारिश से हालात खराब हो गए हैं। राजस्थान में बाढ़ के कारण स्थितियां इतनी खराब हो गई हैं कि मदद के लिए सेना को बुलाया गया है।

बाढ़ से प्रभावित जिलों में राहत अभियानों में मदद के लिए सेना ने अपनी आठ टीमें तैनात की हैं। एक अधिकारी ने बताया कि सेना की टीमें कोटा, झालावाड़, धौलपुर, सवाई माधोपुर में राहत अभियान चला रही हैं। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया।

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में राणा प्रताप बांध का पानी छोड़े जाने के कारण एक गांव को जोड़ने वाली सड़क पानी में डूब गई जिससे वहां स्कूल में 350 स्टूडेंट्स और 50 टीचर 24 घंटे तक फंसे रहे। कुछ जिलों में भारी बारिश और मध्य प्रदेश के गांधी सागर बांध से राजस्थान की ओर पानी छोड़े जाने से धौलपुर जिले में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है।

प्रशासन ने सभी प्रभावित क्षेत्रों में एसडीआरएफ की टीमें भेज दी गई हैं। कोटा में भी भारी बारशि से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। कोटा बैराज के सभी गेट खोल दिए गए हैं। इससे चंबल नदी के आस पास के इलाके जलमग्न हो गए हैं। बीसलपुर बांध के भी 17 दरवाजे खोल दिएं गएं है। पानी की आवक अधिक होने से बाढ़ के हालात उत्पन्न हो रहे है। 


 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.