गोयल ने रेलवे से कहा, बिजली घरों को कोयला आपूर्ति बढ़ाएं

Samachar Jagat | Monday, 12 Mar 2018 03:48:02 PM
Goyal told railway, increase coal supply to power houses

नई दिल्ली। कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने रेलवे से गर्मियों में बिजली की मांग पूरा करने के लिए कोल उठाव बढ़ाकर 500 रैक प्रतिदिन करने को कहा है। बिजली घरों में कोयले की कमी के बीच उन्होंने यह बात कही। गत  सप्ताह एक बैठक में मंत्री ने कई बिजली घरों में कोयला भंडार और रेलवे के कोयला उठाव की स्थिति का जायजा लिया।

मोदी ने मैक्रों को कराया नौका विहार, गंगा से देखी वाराणसी की सांस्कृतिक धरोहर

आधिकारिक सूत्रों ने पीटीआई भाषा से कहा कि यह पाया गया है कि 50 से अधिक बिजली घरों में कोयला भंडार निर्धारित सुरक्षित स्तर से कम है। सूत्रों के मुताबिक यह निर्णय किया गया है कि कोयला उठाव मौजूदा 464 रैक प्रतिदिन से बढ़ाकर 500 रैक प्रतिदिन किया जाए।

इसका मकसद यह सुनिश्चित करना है कि बिजली घरों में ईंधन की कमी से बिजली आपूर्ति  बाधित नहीं हो। अधिकारियों के मुताबिक इसके अलावा कोयले के लदान एवं अधिक परिवहन सुनिश्चत करने के लिए कोयला मंत्रालय के अधिकारी कोयला कंपनियों में तैनात किए जाएंगे। उद्योग से जुड़े सूत्रों के मुताबिक गत मानसून से कोयले की आपूर्ति नहीं सुधरी है।

राज्यसभा चुनावः जेटली सहित भाजपा के आठ उम्मीदवारों ने भरे पर्चे

उस समय कुछ बिजली संयंत्रों में कोयले की भारी कमी थी। बिजली एक्सचेंज में बिजली की दर 11 रुपए प्रति यूनिट पहुंचने के बाद बिजली, कोयला और रेल मंत्रालयों ने संयंत्रों को कोयले की आपूर्ति में सुधार को लेकर कई उपाय किए थे। सरकार ने जनवरी में कोयले की आपूर्ति बढ़ाने के इरादे से ढुलाई के लिए अलग से रेल परिवहन तथा कोयला खादानों से 500 किलोमीटर की दूरी पर बिजली परियोजनाएं लगाने सहित कई उपाय किए।

सरकार का यह भी कहना है कि कम कोयला भंडार के लिए बिजली उत्पादक को भी जिम्मेदार ठहराया। उसका कहना था कि कोयले की कोई कमी नहीं है और संयंत्रों को ईंधन के भंडार के लिए केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के दिशानिर्देशों का अनुपालन करना चाहिए।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.