आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर समाज ने भरी हुंकार

Samachar Jagat | Tuesday, 13 Feb 2018 10:37:44 AM
Gujjar community is full of demand for reservation

झुंझुनू।  राजस्थान के झुंझुनूं में गुर्जर महापंचायत एवं यूथ ब्रिगेड सहित समाज के विभिन्न लोगों ने सोमवार को पांच प्रतिशत आरक्षण सहित अन्य मांगों को लेकर रैली निकाल कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और मुख्यमंत्री के नाम जिला प्रशासन को एक ज्ञापन सौंपा है।

किसानों का ऋण माफ करने की घोषणा स्वागत योग्य-सुराणा

गुर्जर महापंचायत एवं गुर्जर महापंचायत यूथ ब्रिगेड सहित समाज के विभिन्न लोगों ने दोपहर बाद यहां गांधी पार्क में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि समाज का युवा हर क्षेत्र में सेवा के लिए तैयार है। गुर्जर आरक्षण आंदोलन में हुए 72 शहीदों की बजाए चाहे अब 72 हजार की कुर्बानी देनी पड़े,लेकिन हम आरक्षण लेकर ही रहेंगे।

उन्होंने कहा कि समाज का नौजवान ही नहीं आंच आने पर समाज की नारी भी आगे है। उन्होंने कहा कि आरक्षण की मांग को लेकर आगे की रणनीति संघर्ष समिति बनाएगी जिससे राज्य सरकार को मजबूरन ही झुकना पडेगा। चाहे इसके लिए तिहाड़ जेल ही क्यों ना जाना पड़े।

इस अवसर पर समाज के शीशराम खटाणा ने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों एक ही थाली के चट्टे-पट्टे है। उन्होंने कहा कि आरक्षण के लिए हम आर-पार की लड़ाई के लिए भी तैयार है। लेकिन जो सरकार समाज का साथ देगी समाज भी उसी के साथ है।
प्रहलाद खटाणा ने कहा कि सरकार ने गुर्जर समाज के साथ हर बार छलावा किया है। पांच प्रतिशत आरक्षण को लेकर सरकार ने समाज के साथ जो विश्वासघात किया है उसे लेकर समाज आगे आने वाले विधानसभा चुनावों में अपनी ताकत दिखाएगा।

पति ने किया दूसरा निकाह तो पत्नी ने उसे दी ये खौफनाक सजा 

उन्होंने बजट पर कहा कि इस बजट से ना किसानों को कोई फायदा मिला है ना ही युवाओं को सरकार से हर वर्ग पीड़ति नजर आ रहा है। बाद में समाज के लोग बैनर सहित गांधी चौक से रैली के साथ सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां एसडीएम अल्का विश्नोई को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

मांग पत्र में संवैधानिक व्यवस्था के अनुसार 50 प्रतिशत के अंतर्गत 5 प्रतिशत आरक्षण देने, गुर्जर रेजिमेंट का गठन करने, हर जिला मुख्यालय पर देवनारायण बालिका छात्रावास खोलने, देवनारायण बोर्ड के अध्यक्ष की नियुक्ति शीघ्र करने एवं देवनारायण बोर्ड द्बारा दी जाने वाली छात्रवृत्तियों को उच्च शिक्षा में लागू करने सहित 17 मांगे शामिल है।एजेंसी

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.