भोपाल में एक दिन की तेज बारिश के बाद खिली धूप

Samachar Jagat | Friday, 06 Jul 2018 12:41:37 PM
heavy rain in Bhopal

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में गुरुवार को एक दिन में करीब 80 मिलीमीटर बारिश के बाद शुक्रवार सुबह से धूप खिल गई। गुरुवार को राजधानी में अलसुबह से जारी बारिश के कारण दोपहर तक निचली बस्तियों और सडक़ों पर भारी जलभराव हो गया था। मौसम विभाग के अनुसार भोपाल शहर में गुरुवार सुबह साढे 8 बजे से शाम साढे पांच बजे तक 79.2 मिमी बारिश दर्ज हुई, जो प्रदेश में  सर्वाधिक थी।

दफ्तर तक आने-जाने में रोजाना 340 किलोमीटर यात्रा करते हैं कर्नाटक के मंत्री

इसके बाद शुक्रवार सुबह राजधानी में धूप खिल गई, जिससे एक बार फिर लोगों को उमस का सामना करना पड़ रहा है। विभाग के अनुसार दक्षिण बांग्लादेश और आसपास के क्षेत्रों पर ऊपरी हवा का चक्रवात, परिसंचरण के प्रभाव के कारण उड़ीसा और आसपास के क्षेत्रों की वर्षा से मध्यप्रदेश में वर्षा गतिविधियों में बढोत्तरी हुई है। यह अभी बढऩे की संभावना है।

विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान प्रदेश के गुना, शिवपुरी, अशोकनगर, राजगढ़, भोपाल, विदिशा, सीहोर, रायसेन होशंगाबाद, बैतूल, नरसिंहपुर, जबलपुर, मंडला, सिवनी, छिन्दवाड़ा, कटनी, उमरिया, अनूपपुर, शहडोल, नीमच और मंदसौर जिलों के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा के साथ कहीं-कहीं भारी वर्षा की संभावना जाहिर की है।

विभाग ने कहा है कि उत्तरी बंगाल की खाड़ी पर नौ से 11 जुलाई के दौरान कम दबाव का क्षेत्र विकसित होने की संभावना है, जिसके चलते अगले एक हफ्ते (6 से 11 जुलाई) के दौरान मध्यप्रदेश में वर्षा गतिविधियों की व्यापकता बढाने की संभावना है। 6 से 11 जुलाई के दौरान इंदौर एवं होशंगाबाद संभागों में अधिकांश दिनों के दौरान वर्षा गतिविधियों की काफी संभावना है।

आज एलजी से मिलेंगे केजरीवाल, आदेश नहीं मानने वाले अधिकारियों को परिणाम भुगतने की चेतावनी

इसी दौरान पूर्वी मध्यप्रदेश में अनेक से अधिकांश स्थानों पर वर्षा के साथ कहीं-कहीं भारी वर्षा की संभावना है। कुल मिला कर मध्य प्रदेश में सामान्य से कम वर्षामान मिलने की संभावना है। वहीं नौ से 11 जुलाई के दौरान उज्जैन, ग्वालियर, चम्बल संभाग एवं छतरपुर, टीकमगढ़, रीवा, सतना, सीधी, पन्ना एवं उमरिया जिलों में अधिकांश से अनेक स्थानों पर वर्षा के साथ कहीं-कहीं भारी वर्षा की संभावना है। 12 जुलाई के बाद वर्षा गतिविधियाँ कम होने की संभावना है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.