अगर कोयला नहीं बेचा जाता तो आज हम बिजली बेच रहे होते- रघुवर दास

Samachar Jagat | Thursday, 11 Apr 2019 12:06:19 PM
If coal was not sold then today we were selling electricity- Raghuvar Das

हजारीबाग। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को केन्द्रीय मंत्री जयंत सिन्हा के आगामी लोकसभा चुनावों के लिए यहां से नामांकन के बाद कहा कि यदि झारखंड से कोयला नहीं बेचा जाता तो आज हम बिजली बेच रहे होते।

मुख्यमंत्री दास ने कहा कि पतरातू में ही 4 हजार मेगावाट बिजली उत्पादन हेतु कार्य हो रहा है। उसके पूर्ण होते ही झारखंड अपनी आवश्यकता की पूर्ति करने के साथ ही बिजली बेचेगा भी। यह कार्य पूर्व में भी हो सकता था।

उन्होंने तंज किया कि अगर राज्य का कोयला नहीं बेचा जाता तो हम आज बिजली बेच रहे होते। लेकिन यह नहीं हो सका। परंतु अब मोदी जी के नेतृत्व में अब यह संभव है। दास ने कहा कि विकास बोलता है यह कहने की चीज नहीं। देश के लाखों घरों तक बिजली पहुंची, घर घर शौचालय पहुंचा, बेघरों के लिए घर बनाया गया।

उन्होंने कहा कि 2014 से पहले की स्थिति देश की क्या थी। हजारीबाग के संदर्भ में बात करें तो मात्र 2 वर्ष में मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार हो गया। रामगढ़ में पहला महिला महाविद्यालय खुला, पतरातू को पर्यटन के दृष्टिकोण से विकसित किया जा रहा है ताकि स्थानीय लोगों को रोजगार मिल सके। उन्होंने कहा कि जल्द ही हजारीबाग को 500 बेड के मेडिकल अस्पताल का सौगात मिलेगा। इसकी स्वीकृति मिल चुकी है। चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के साथ कार्य प्रारंभ होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मोदी जी भारत को पूरी दुनिया का नेतृत्व करने की क्षमता प्रदान करना चाहते हैं। 2019 का चुनाव नए भारत नए झारखंड के लिए जनादेश होगा। यह चुनाव देश की तकदीर बदलेगा और देश की जनता इसका फैसला करेगी। कमल आएगा तो रोटी आएगी, कमल आएगा तो रोजगार आएगा, कमल आएगा तो बुनियादी सुविधा लोगों को प्राप्त होगी। दास ने हजारीबाग के मटवारी मैदान में जयंत सिन्हा और केन्द्रीय मंत्री सुरेश प्रभु के साथ जनसभा को संबोधित किया। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.