खनन कारोबारी रेड्डी ने बेटी की शादी पर खजाने का मुंह खोला

Samachar Jagat | Thursday, 17 Nov 2016 07:42:05 AM
खनन कारोबारी रेड्डी ने बेटी की शादी पर खजाने का मुंह खोला

बेंगलुरु। कर्नाटक के पूर्व मंत्री और बड़े खनन कारोबारी गली जनार्दन रेड्डी की बेटी की बुधवार को हुई शानदार शादी की भव्यता को लेकर भृकुटियां तन गई हैं। यह शादी ऐसे समय हुई जब लाखों लोग नकदी के लिए एटीएम के बाहर कतारों में खड़े हो रहे हैं। नव दंपति को बधाई और आशीर्वाद देने के लिए करीब 50,000 लोग बेंगलुरु पैलेस में जमा हुए। रेड्डी के सहयोगी मंजू स्वामी ने कहा, सुबह में शुभ मुहूर्त पर राजीव रेड्डी 25 और ब्रह्मणी 21 दर्जन भर पंडितों द्वारा वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच हिन्दू रीति रिवाज से शादी के बंधन में बंध गए। राजीव हैदराबाद के उद्योगपति विक्रमदेव रेड्डी के पुत्र हैं और उनके विदेशों में कारोबार हैं।

उपमहाद्वीप में सबसे खर्चीली शादियों में एक, पांच दिवसीय शानदार कार्यक्रम की सर्वत्र आलोचना और इससे इष्र्या हुई। पूर्व भाजपा विधायक 49 वर्षीय रेड्डी करोड़ों रुपये के खनन घोटाले में कथित रूप से संलिप्त होने के कारण 40 महीने तक जेल में रहने के बाद जमानत पर चल रहे हैं। इस घोटाले के उजागर होने के बाद साल 2010-11 में इस दक्षिणी राज्य में राजनीतिक भूचाल आ गया था। हालांकि जनवरी, 2015 में सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिलने के बाद रेड्डी सामान्य ढंग से जीवन जी रहे थे, लेकिन शादी के निमंत्रण पत्र के साथ एलसीडी टीवी और विवाह से पूर्व कार्यक्रम के वीडियो भेजने के बाद वह पुन: चर्चा में आ गए। स्वामी ने कहा,ब्राह्मणी उनकी इकलौती बेटी है, वे उसकी शादी शानदार ढंग से और अलग तरीके से करना चाहते थे ताकि लोग इसे लंबे समय तक याद रख सकें।

शादी से पहले 10 नवम्बर को अपने गृहनगर बेल्लारी में रेड्डी ने संवाददाताओं से कहा था कि वह एक महीने के भीतर शादी खर्च के हिसाब आयकर विभाग के महानिदेशक को दे देंगे। हालांकि उन्होंने स्थानीय मीडिया के साथ शादी खर्च का अनुमान साझा नहीं किया। बेंगलुरु स्थित एक कानूनी कार्यकर्ता टी.नरसिम्हा मूर्ति (52) ने आरोप लगाया कि रेड्डी ने अपनी बेटी की शादी पर ऐसे समय 500 करोड़ रुपये खर्च किए हैं जब लोग बैंकों और डाक घरों से पैसे पाने के लिए हर दिन संघर्ष कर रहे हैं।

कार्यकर्ता ने कहा कि रेड्डी ने रॉयल पैलेस 12 नवम्बर से पांच दिनों के लिए बुक किए थे और चेन्नई, मुंबई व हैदराबाद के अनेक फिल्मी सितारों और अन्य हस्तियों को आमंत्रित किए थे। मूर्ति ने कहा कि रेड्डी ने शादी के स्थल पर विजनगर साम्राज्य की प्रतिमूर्ति बनवाई थी और ब्राजील के नर्तकियों समेत विदेशों से सांस्कृतिक मंडलियां बुलाई थीं। रेड्डी द्वारा वित्त पोषित स्थानीय समाचार टीवी चैनलों को छोडक़र मीडिया को शादी समारोह को कवर करने की इजाजत नहीं थी, क्योंकि यह पारिवारिक कार्यक्रम था और सुरक्षा की चिंताएं भी कारण थीं।

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.