राजस्थान में गुर्जरों का आंदोलन तीसरे दिन भी जारी, दो रेलगाड़ियां रद्द, परीक्षाएं स्थगित

Samachar Jagat | Sunday, 10 Feb 2019 03:29:39 PM
Movement reservation of Gujjars in Rajasthan

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जयपुर। राजस्थान में गुर्जरों का आरक्षण के लिए आंदोलन रविवार को तीसरे दिन भी जारी है। गुर्जर नेता दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे हैं जिससे कई प्रमुख ट्रेनों को रद्द कर दिया गया हैं या उनके मार्ग में बदलाव किया गया है। उल्लेखनीय है कि गुर्जर नेता पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर शुक्रवार की शाम को सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर में रेल पटरी पर बैठ गए थे।


आंदोलनकारियों और सरकारी प्रतिनिधिमंडल में शनिवार को हुई बातचीत बेनतीजा रही।  राज्य सरकार द्वारा गठित समिति के सदस्य पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह और भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी नीरज के पवन ने शनिवार को गुर्जर नेता किरोडी सिह बैंसला से बातचीत की लेकिन बैंसला अपनी मांग पर अडे रहे।

गुर्जर आंदोलन के चलते दो रेलगाड़ियां रद्द
राजस्थान में गुर्जरों के आरक्षण आंदोलन का असर रविवार को भी रेल सेवाओं पर भी पड़ा। इसके चलते कम से कम दो ट्रेनों को रद्द किया गया और नौ ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि आंदोलन के कारण उदयपुर से हजरत निजामुद्दीन और हजरत निजामुद्दीन से उदयपुर के बीच चलने वाली रेलगाड़ी को रद्द कर दिया गया है।
वहीं इसी खंड में सात ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है और दो ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द किया गया है। गुर्जर आंदोलन का असर पश्चिम मध्य रेलवे की कुछ सेवाओं पर भी देखा गया।

वहां कम से कम दो ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है। उल्लेखनीय है कि गुर्जर पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर शुक्रवार शाम से सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर में रेल पटरी पर बैठे हैं। उत्तर-पश्चिम रेलवे ने शनिवार को भी तीन सवारी गाडियों को रद्द कर दिया और एक सवारी गाड़ी के मार्ग में परिवर्तन किया था।

गुर्जर आंदोलन की वजह से परीक्षाएं स्थगित
राजस्थान में गुर्जर आरक्षण आंदोलन को देखते हुए अशोक गहलोत सरकार ने आज आयोजित होने वाली कृषि पर्यवेक्षक एवं आंगनबाड़ी सुपरवाइजर भर्ती परीक्षाएं स्थगित कर दी हैं। इन परीक्षाओं की तारीख अब बाद में घोषित की जाएगी। सरकार के इस निर्णय के कारण हजारों अभ्यर्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। इन परीक्षाओं के लिए हजारों परीक्षार्थी दो दिन पहले ही परीक्षा से संबंधित जिलों में पहुंच गए थे। अब सरकार के इस निर्णय के कारण उन्हें मानसिक और आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ा।

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा कृषि पर्यवेक्षक सीधी भर्ती परीक्षा आज सुबह 11 से दोपहर एक बजे तक जयपुर एवं कोटा में होनी थी। वहीं पर्यवेक्षक (महिला) (आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कोटा) सीधी भर्ती परीक्षा दोपहर दो से शाम साढ़े पांच बजे तक अजमेर में आयोजित होनी थी। 

उल्लेखनीय है कि गुर्जर समाज सरकारी नौकरियों और शिक्षण संस्‍थानों में प्रवेश के लिए गुर्जर, रायका रेबारी, गडिया, लुहार, बंजारा और गड़रिया समाज के लोगों को पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहा है। वर्तमान में अन्‍य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण के अतिरिक्‍त 50 प्रतिशत की कानूनी सीमा में गुर्जरों को अति पिछड़ा श्रेणी के तहत एक प्रतिशत आरक्षण अलग से मिल रहा है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.