जांच में सही मिलते है मुंबई के ब्रिज, फिर भी बार बार हादसे देश के साथ धोखा

Samachar Jagat | Friday, 15 Mar 2019 08:48:58 AM
Mumbai's Bridge meets right in the investigation yet repeatedly tragedy with the country

इंंटरनेट डेस्क:  गुरुवार की रात मुंबई वासियों के लिए बेहद दर्द भरी गुजरी मुंबई के सबसे व्यस्त माने जाने वाले छत्रपति शिवाजी टर्मिनस रेलवे स्टेशन के समीप एक फुटब्रिज के गिरने से छह लोगों की मौत हो गई है, जबकि 33 लोग घायल हो गए है हादसा होते है स्थानिय लोगों और प्रशासन की मदद से  घायलों को सेंट जॉर्ज और जीटी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, मुंबई में ये हादसा शाम सात बजकर 20 मिनट पर हुआ, ऐसे में इस दौरान पुल पर से गुजरने वालो लोगों की संख्या बहुत थी, यहीं नहीं पुल के नीचे भी काफी लोग आ जा रहे थे

Old Post Image

तभी अचानक फुटबिज्र गिर गया ऐसे में इस घटना के बाद सवाल उठना लाजमी है की एक बार फिर इस बड़े हादसे में लापरवाही किसकी है कांग्रेस ने रेल मंत्री पीयूष गोयल का इस्तीफ ा मांगा है और कहा है कि अगर वो इस्तीफ ा नहीं देते तो उनको हटाया जाए वैसे खबरों की माने तो जो पुल गिरा है वह रेलवे का नहीं बल्कि बीएमसी का है इस हादसे के बाद  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर गहरा दुख जताया है

Old Post Image

लेकिन इस हादसे के बाद फिर से सवाल उठने लगे है की बार बार ऐसे हादसों का आखिर जिम्मेदार कौन है.जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी इस बार से हैरान हैं की जिस पुल को सरकारी अफसरों ने सेफ्टी ऑडिट में दुरुस्त पाया है आखिर वह किस तरह भरभरा कर गिर कैसे गया, इतने जर्जर पुल को सरकारी जांच में दुरुस्त कैसे बता दिया गया ये सवाल भी उठने लगा है

सरकार के मंत्री विनोद तावड़े भी कह रहे हैं कि पुल की हालत खराब नहीं थी, लेकिन इस हादसे के बाद पुल की मजबूती की सच्चाई सामने आ गई ऐसे में अब पूरी मुंबई यही सवाल पूछ रही है कि जब सेफ्टी ऑडिट में पुल को मजबूत बताया गया  तो ये हादस कैसा हो गया है इससे पहले भी कई पुल हादसों के शिकार हो चुके है पहले भी जर्जर पुलों को दुरुस्त करने का दावा किया गया, लेकिन इसके बावजूद मुंबई में पुल हादसे बंद नहीं हुए
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.