त्रिवेणी धाम: नारायणदास जी महाराज का देवलोकगमन, अंतिम दर्शनों के लिए उमड़ा जन सैलाब

Samachar Jagat | Sunday, 18 Nov 2018 03:49:00 PM
Narayan das ji Maharaj died

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जयपुर। सीकर जिले के अजीतगढ़ के निकटवर्ती पवित्र स्थान त्रिवेणी धाम के महाराज पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित नारायण दास महाराज को शनिवार देवलोकगमन हो गया। 94 साल की उम्र में उनके निधन की खबर से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।


उनके अंतिम दर्शनों के लिए बड़ी संख्या में लोग त्रिवेणी धाम की ओर रवाना हो गए। वहीं उनके निधन के बाद उनके अंतिम दर्शनों के लिए बड़ी संख्या में लोग त्रिवेणी धाम पहुंच रहे हैं। वहीं शाहपुरा समेत आसपास के बाजार बंद हो गए हैं।

नारायण दास महाराज की काफी दिनों तबियत खराब चल रही थी, जिसकी वजह से वे काफी दिनों से अस्पताल में ही भर्ती थे। लेकिन उनकी तबीयत दिनों दिन बिगड़ने और सुधार की गुंजाइश नहीं रहने पर शनिवार सुबह उन्हें अस्पताल से त्रिवेणी धाम लाया गया था।

जहां उनकी हालत दोपहर तक स्थिर बनी हुई थी लेकिन इसके बाद शाम 4.45 बजे उनका देवलोकगमन हो गया। वहीं उनके निधन का पता चलते ही श्रद्धालु त्रिवेणी धाम पहुंचना शुरू हो गए। खबरों के मुताबिक रविवार की सुबह 3 बजे से सुबह 11 बजे तक महाराज का पार्थिव देह के श्रद्धालु दर्शन कर सकेंगे, जिसके बाद उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

खबरों के मुताबिक संत शिरोमणि पद्मश्री नारायणदासजी महाराज का अस्पताल में इलाज के बाद स्वास्थ्य में हल्का सुधार हुआ था। लेकिन तबियत में अचानक आई गिरावट के बाद उन्हें शनिवार की सुबह त्रिवेणी धाम में उनके महल में नवनिर्मित आइसीयू में शिफ्ट किया था।

लेकिन तमाम कोशिशों के बाद शाम करीब 5 बजे महाराजश्री ने अंतिम सांसें लीं। जिसके बाद अजीतगढ़, शाहपुरा समेत देश-विदेश में श्रृद्वालुओं और भक्तों में शोक की लहर छा गई।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.