लालू जेल से ही कर रहे राजद का संचालन: जदयू

Samachar Jagat | Sunday, 21 Apr 2019 04:10:03 PM
Operation of RJD from Lalu Prison: JDU

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

पटना। बिहार में सत्तारूढ जनता दल यूनाईटेड (जदयू) ने लोकसभा चुनाव के दौरान ही बहुचर्चित चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के जेल से ही अपनी पार्टी का संचालन करने और उनके हस्ताक्षर से उम्मीदवारों को टिकट दिये जाने का नया खुलासा कर राजद के लिए मुश्किलें और बढ़ा दी है।

जदयू प्रवक्ता एवं विधान परिषद् सदस्य नीरज कुमार ने चुनाव आयोग को आज लिखे पत्र में राजद अध्यक्ष यादव पर आरोप लगाया है कि वह झारखंड की राजधानी रांची के बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल से ही अपनी राजनीतिक पार्टी का संचालन कर रहे हैं। यही कारण है कि वे आज भी राजद के अध्यक्ष बने हुए हैं।

उन्होंने जेल मैनुअल के प्रावधानों का हवाला देते हुए कहा कि जब कोई कैदी राजनीति से संबंधित पत्र नहीं लिख सकता है। लेकिन, यादव ने तो वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए अपने हस्ताक्षर से उम्मीदवारों के टिकट जारी किए हैं। कुमार ने कहा कि सतरहवें आम चुनाव (2019) में राजद अध्यक्ष यादव के हस्ताक्षर से पार्टी के उम्मीदवारों को टिकट दिए गए, जो पूरी तरह राजनीतिक कार्य है।

उन्होंने चुनाव से आग्रह किया है कि यादव की यह गतिविधि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है इसलिए उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। जदयू नेता ने कहा कि राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव देश के सबसे चर्चित चारा घोटाला मामले में रांची के होटवार जेल में सजा काट रहे हैं। स्वास्थ्य कारणों से राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के पेइंग वार्ड में इलाजरत हैं।

बिहार के जेल मैनुअल के नियम 999 में स्पष्ट कहा गया है कि कोई भी कैदी जेल से निजी मुद्दे पर ही केवल परिवार को ही पत्र लिख सकता है। जेल के अनुशासन या राजनीति से संबंधित कोई भी पत्र नहीं लिखे जा सकते हैं। कुमार ने कहा कि बिहार का जेल मैनुअल ही झारखंड में भी लागू है।

यादव द्बारा किया गया यह कार्य न केवल आचार संहिता का उल्लंघन है बल्कि जेल मैनुअल की भी अवहेलना है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग से निवेदन है कि जेल मैनुअल के नियम 999 की व्याख्या की जाए और यदि जेल मैनुअल का उल्लंघन किया गया है, तो कैदी लालू प्रसाद पर कार्रवाई किया जाए।

जदयू नेता ने कहा कि यादव लगातार सोशल मीडिया पर भी अपने विचार उद्धृत करते रहे हैं, जिससे चुनाव प्रभावित किया जा रहा है। उन्होंने चुनाव आयोग से कहा कि मेरा आपसे विनम्र आग्रह है कि आदर्श चुनाव आचार संहिता बनाए रखने के लिए यादव के विरुद्ध कारगर कार्रवाई की जाए।

loading...


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
loading...

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.