अस्पताल को तबेला बनाने वाले बच्चों की मौत पर कर रहे राजनीति : सुशील

Samachar Jagat | Wednesday, 19 Jun 2019 09:53:55 AM
Politics on the death of children: sushil

पटना। बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि जिनके 15 साल के शासनकाल में सरकारी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों को आवारा पशुओं का तबेला बना दिया गया था वे बच्चों की चिताओं पर राजनीतिक रोटियां सेकनें निकल पड़े हैं।

मोदी ने मुजफ्फरपुर में एक्यूट इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से बच्चों की हो रही मौत पर पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की नेता राबड़ी देवी के सरकार पर किये गये हमलों के जवाब में ट्वीट कर कहा कि जिन्होंने 15 साल के अपने शासन में सरकारी अस्पतालों और मेडिकल कालेजों को आवारा पशुओं का तबेला बना दिया था, वे बच्चों की चिता पर राजनीति की रोटियां सेंकने निकल पड़े हैं। राजद के लोगों को हाल के लोकसभा चुनाव के दौरान अमर्यादित टिप्पणी और तथ्यहीन आरोप लगाने के कारण जनता ने जीरो पर आउट किया, लेकिन मात्र 22 दिन बाद मौका मिलते ही उनकी पुरानी बोली फूटने लगी है।
 
उप मुख्यमंत्री ने कहा, राबड़ी देवी बतायें कि उनके शासन में मेडिकल कालेजों की क्या दशा थी ? एक पूर्व मुख्यमंत्री से लोग जानना चाहेंगे कि हाल में चमकी बुखार से 1000 बच्चों की मौत के आंकड़े का आधार क्या है ? क्या मौत के मनगढ़ंत आंकड़े पेश करना किसी जिम्मेदार व्यक्ति का काम हो सकता है ? ’ उन्होंने आगे कहा कि अत्यधिक गर्मी, लू और चमकी बुखार से बड़ी संख्या में बच्चों-बुजुर्गों की मृत्यु हर संवेदनशील व्यक्ति को विचलित करने वाली है । राज्य सरकार ने पीड़तिों की मदद और बचाव के लिए तेजी से कदम भी उठाये हैं।

मोदी ने कहा कि एईएस का इलाज मुफ्त किया गया, रोगी को अस्पताल लाने का खर्च देने का निर्णय हुआ, मृतक के परिवार को चार लाख रुपये देने की शुरूआत की गई और दर्जन भर लोगों तक यह राशि पहुंचा भी दी गई। एहतियात के तौर पर दिन के 10 बजे से शाम के पांच बजे तक सरकारी-गैरसरकारी निर्माण पर रोक लगी। स्कूल-कालेज 24 जून तक बंद कर दिये गए। भविष्य की चुनौती को देखते हुए मुजफ्फरपुर के एसकेएमसीएच में 100 बेड का आईसीयू बनाने का फैसला किया गया। सरकार हर संभव उपाय कर रही है, लेकिन विपक्ष इस मुद्दे पर सिर्फ राजनीति कर रहा है।

गौरतलब है कि राबड़ी देवी ने आज सुबह ट्वीट कर कहा था कि एनडीए सरकार की घोर लापरवाही, कुव्यवस्था सीएम की महामारी को लेकर अनुत्तरदायी, असंवेदनशील और अमानवीय अप्रोच, लचर व भ्रष्ट व्यवस्था, स्वास्थ्य मंत्री के ग़ैर-जिम्मिेदाराना व्यवहार एवं भ्रष्ट आचरण के कारण गऱीबों के 1000 से ज्यादा  मासूम बच्चों की चमकी बुखार के बहाने हत्या की गयी है। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.