सरकार बनने के दस दिन में किसानों का कर्जा माफ किया जाएगा: राहुल

Samachar Jagat | Tuesday, 04 Dec 2018 05:21:09 PM
Rahul Gandhi promises farm loan waiver if Congress voted to power in Rajasthan

बुहाना (झुंझुनूं)। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने वादा किया है कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनने के दस दिन के भीतर पंजाब और कर्नाटक की तरह यहां के किसानों का कर्जा माफ कर दिया जाएगा। गांधी ने मंगलवार को यहां कांग्रेस प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के 15 अमीर लोगों का साढे 3 लाख करोड़ रुपए कर्जा माफ कर सकते है लेकिन किसान का एक रुपया कर्जा माफ नहीं करते।

उन्होंने कहा किसानों के इस आग्रह के बाद की मोदी गरीब किसान बात नही सुनते मै किसानों के साथ प्रधानमंत्री से मिलने उनके दफ्तर पहुंचा और उनके सामने बैठकर किसानों का कर्जा माफ करने का अनुरोध किया। इस मोदी मुझे इस तरह घुरने लगे कि मेरी यह हिम्मत कैसे हो गई की मैं किसानें के कर्जे माफ करने की बात कही। उन्होंने वादा किया कि राजस्थान में कांग्रेस सरकार बनने पर सबसे पहला यह किया जाएगा कि दस दिन के भीतर किसानों का कर्जा माफ होगा।

गांधी ने कहा कि मोदी सूटबूट वालों की सुनते है किसानों की आवाज उन तक नहीं पहुंचती है। मध्य प्रदेश , छत्तसगढ, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के किसान आत्महत्या कर रहे है। मोदी के बार बार भारत माता की जय बोलने पर तंज कसते हुए गांधी ने कहा कि सच्ची भारत माता तो देश का किसान ,जवान ,युवा और माता बहने है जो सुबह उठकर खेतों में पानी देती है और सीमाओं की रक्षा करते है।

अलवर में हाल ही 4 युवकों द्बारा आत्महत्या करने का जिक्र करते हुए गांधी ने कहा कि मोदीजी ने 2 करोड़ युवाओं को हर साल नौकरी देने का वायदा किया था यदि उन्होंने इस वादे को पूरा किया होता तो इन नौजवानों का आत्महत्या नहीं करनी पड़ती।

उन्होंने इन युवाओं ने यह सब अपने लिए नहीं किया बल्कि राजस्थान की युवाओं की आवाज उठायी है। उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस की सरकार आयी तो बेरोजगारी दूूर करने के लिए हर ब्लॉक स्तर पर खाद्य प्रंस्करण इकाईयां स्थापित की जाएगी जिससे किसान अपने उत्पादों को स्थानीय स्तर पर ही इन इकाईयों को दे सकेगा साथ ही युवक युवतियों को रोजगार उपलब्ध होगा।

राफेल मुद्दे को एक बार फिर उठाते हुए गांधी ने कहा कि वायुसेना की जरुरत 126 विमानों की थी और मनमोहन सिंह सरकार ने इसे इस शर्त के साथ मंजूर किया था कि इनका उत्पादन देश में ही किया जाएगा।

लेकिन मोदी अपने मित्र अनिल अंबानी को लेकर फ्रांस गए और कुछ दिन पहले बनी उनकी कम्पनी को यह विमान बनाने का ठेका दे दिया। जबकि गत 70 सालों से सुखोई और मिग जैसे लडाकू विमान बनाने वाले कम्पनी को एचएएल को छोड़ दिया गया। गांंधी ने ललित मोदी द्बारा मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र के खाते में करोड़ों रुपए डालने का भी आरोप लगाया।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.