राहुल ने किया प्रधानमंत्री से केरल के लिए ‘पर्याप्त धन’ जारी करने का आग्रह 

Samachar Jagat | Saturday, 11 Aug 2018 07:43:52 PM
Rahul urges Prime Minister to release adequate funds for Kerala

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल में भारी बारिश से हुए जानमाल के नुकसान पर शनिवार को दुख जताया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आग्रह किया कि केंद्र सरकार राज्य के लिए तत्काल ‘पर्याप्त धन’ जारी करे ताकि राहत एवं पुनर्वास कार्य प्रभावी ढंग से हो सकें।

मोदी का आईआईटी से आव्हान, इंडिया के लिए नवोन्मेष करें, मानवता के लिए नवोन्मेष करें

गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा, ‘‘हालिया बारिश, बाढ़ और भूस्खलन से केरल में भारी तबाही हुई है। पिछले पांच दशकों में राज्य में आई यह सबसे भयावह आपदा है। इस प्राकृतिक आपदा से व्यापक स्तर पर जानमाल का नुकसान हुआ है।

उन्होंने कहा कि आशा है कि भारत सरकार राज्य में चलाए जा रहे राहत एवं पुनर्वास के प्रयासों में सहयोग करेगी। आपसे आग्रह है कि राज्य को तत्काल पर्याप्त धन जारी किया जाए ताकि प्रभावी ढंग से काम हो सके और बुनियादी ढांचे को पहले की स्थिति में लाया जा सके।

इससे पहले गांधी ने ट्वीट कर कहा कि अप्रत्याशित बारिश ने केरल में तबाही मचा दी है, भारी नुकसान हुआ है और हजारों लोगों को बेघर होना पड़ा है। मैं केरल में कंाग्रेस के हर कार्यकर्ता से आग्रह करता हूं कि वे तैयार हो जाएं और जरूरतमंद लोगों की मदद करें।

उन्होंने कहा कि इस मुश्किल घड़ी में मेरी प्रार्थना और संवेदना केरल के लोगों के साथ है। केरल में गत कुछ दिनों से जारी भारी बारिश की वजह से 29 लोगों की मौत हो गई है और 50 हजार से अधिक लोगों को राहत शिविरों में पहुंचाना पड़ा है।

अमित शाह बोले, कांग्रेस, तृणमूल घुसपैठियों के मुद्दे पर अपना रुख साफ करें

कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कल लोकसभा में इस मुद्दे को उठाया था और केरल के लिए विशेष वित्तीय पैकेज की मांग की थी। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि केरल को मदद की जो भी जरूरत होगी, मुहैया कराई जाएगी। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.