एक सौ पन्द्रह स्थानों पर, सीधा जबकि करीब सत्तर जगहों पर त्रिकोणीय मुकाबला

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Dec 2018 12:45:01 PM
Rajasthan assembly elections

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के झालरापाटन, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सरदारपुरा एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के टोंक विधानसभा क्षेत्र सहित राज्य की करीब एक सौ पन्द्रह सीटों पर सीधा तथा करीब सत्तर स्थानों पर त्रिकोणीय जबकि एक दर्जन से अधिक स्थानों पर चतुष्कोणीय चुनावी मुकाबला नजर आने लगा हैं। 


हालांकि सिरोही जिले के पिण्डवाड़ा आबू विधानसभा क्षेत्र में निर्दलीयों एवं शिवसेना प्रत्याशी के चुनाव मैदान में दमखम दिखाने से वहां सत्तारुढ बीजेपी एवं प्रमुख विपक्ष कांग्रेस प्रत्याशियों सहित 5 उम्मीदवारों में चुनावी मुकाबला होने के आसार हैं।

जबकि गंगानगर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा एवं कांग्रेस के अलावा 4 बार विधायक रहे पूर्व मंत्री राधेश्याम के निर्दलीय, बागी राजकुमार गौड़ एवं जयदीप बियाणी एवं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रत्याशी प्रहलाद टाक तथा मौजूदा विधायक जमीदारा पार्टी की कामिनी जिंदल चुनाव मैदान में होने से यहां सात उम्मीदवारों में बराबरी का मुकाबला बनता जा रहा हैं।

7 दिसम्बर को विधानसभा की दो सौ में से 199 सीटों पर होने वाले चुनाव में भाजपा ने सभी सीटों पर, कांग्रेस ने 195 एवं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और अन्य दलों एवं निर्दलीयों समेत कुल 2274 उम्मीदवार चुनाव मैदान में अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि अलवर जिले के रामगढ विधानसभा क्षेत्र से बसपा उम्मीदवार लक्ष्मण सिंह के आकस्मिक निधन से वहां चुनाव स्थगित हो चुका हैं। राजे का झालावाड़ जिले की झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र से भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आए विधायक मानवेन्द्र सिंह से सीधा मुकाबला हैं।

हालांकि राजे के 2 बार मुख्यमंत्री बनने तथा इस क्षेत्र धौलपुर के बाद वर्ष 2003 से लगातार यहां से विधायक चुनने से उनकी स्थिति काफी मजबूत मानी जा रही हैं। इसी तरह दो बार मुख्यमंत्री रह चुके गहलोत जोधपुर जिले की सरदारपुरा विधानसभा क्षेत्र में मजबूत स्थिति में हैं और उनका मुकाबला पिछली बार उनके सामने चुनाव हार चुके भाजपा प्रत्याशी शंभू सिह खेतासर से हैं जबकि पायलट का टोंक विधानसभा क्षेत्र में राज्य के सार्वजनिक निर्माण मंत्री यूनुस खान से सीधा चुनावी मुकाबला हैं।

खान भाजपा का एक मात्र मुस्लिम प्रत्याशी हैं। वर्ष 2008 में एक वोट से हारने वाले पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांग्रेस प्रत्याशी डॉ. सीपी जोशी का इस बार नाथद्बारा सीट से हाल में कांग्रेस से बीजेपी में आएं महेश प्रताप सिंह से सीधा मुकाबला हैं।

इसी तरह पांच बार विधायक चुनी गई भाजपा की वरिष्ठ नेता सूर्यकांता व्यास सूरसागर विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी प्रो अयूब खान, पंयाचत राज मंत्री राजेन्द्र राठौड़ का मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी रफीक मंडेलिया से, अंता से कृषि मंत्री प्रभु लाल सैनी का पूर्व मंत्री कांग्रेस प्रत्याशी प्रमोद जैन, कोटा उत्तर से पूर्व गृह मंत्री कांग्रेस प्रत्याशी शांति धारीवाल का भाजपा प्रत्याशी विधायक प्रहलाद गुंजल तथा कोलायत विधानसभा क्षेत्र में विधानसभा में प्रतिपक्ष नेता रामेश्वर डूडी की पिछले चुनाव में बागी रहे बीजेपी प्रत्याशी बिहारी लाल विश्नोई से सीधी चुनावी टक्कर होने के आसार हैं। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.