आरओ प्लांट्स के पानी की होगी जांच-विश्नोई

Samachar Jagat | Friday, 12 Jul 2019 03:20:28 PM
 RO plants  Water will be checked  - Vishnoi

जयपुर। राजस्थान के वन एवं पर्यावरण राज्य मंत्री सुखराम विश्नोई ने कहा है कि प्रदेश में आरओ प्लांट्स के जरिए निकलने वाले पानी की जांच कर पता लगाया जाएगा कि यह पानी खेती के लिए उपयोगी है या नहीं। विश्नोई आज विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विधायकों के पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। इस दौरान केवल चितौडग़ढ़ के आरओ प्लांट्स को बंद करने के जवाब में उन्होंने कहा कि चितौडग़ढ़ के लोग नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) में गए और गत 23 अप्रैल को आये एनजीटी के फैसले की पालना में इन आरओ प्लांट्स को बंद किया गया। 

Rawat Public School

इससे पहले विधायक चंद्रभान भसह आक्या के मूल प्रश्न के जवाब में विश्नोई ने राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल में उपलब्ध अभिलेखानुसार गली मौहल्लों में भू जल दोहन कर संचालित आर.ओ. प्लांट की सूचना भी सदन की मेज पर रखी। उन्होंने बताया कि किसी भी औद्योगिक ईकाई को भूमि दोहन की अनुमति अथवा अनापत्ति प्रमाण पत्र केन्द्रीय भू जल प्राधिकरण से प्राप्त करना है। 

उन्होंने कहा कि अवैध इकाइयों की स्थापना एवं संचालन की जानकारी प्राप्त होने पर राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मंडल द्वारा जल (प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण) अधिनियम, 1974 के प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाती है। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.