150 वर्ष पुराने रेलवे ट्रैक पर होगा सड़क निर्माण कार्य 

Samachar Jagat | Thursday, 14 Jun 2018 05:37:56 PM
Road construction will be done on 150-year-old railway track

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

पटना। पटना स्थित के आर ब्लॉक-दीघा रेल लाइन की 71 एकड़ जमीन राज्य सरकार को मिलने से 150 वर्ष पुराने इस रेलवे ट्रैक पर सडक़ निर्माण का कार्य संभव हो सकेगा। बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने पटना के आर ब्लॉक-दीघा रेल लाइन की 71 एकड़ जमीन राज्य सरकार को सौंपने की सहमति देने पर रेलमंत्री पीयूष गोयल का आभार व्यक्त किया है।

विश्व रक्तदाता दिवस पर हुआ रक्तदाताओं का सम्मान

 उपमुख्यमंत्री मोदी ने कहा कि इससे 150 वर्ष पुरानी इस रेल ट्रैक पर सडक़ निर्माण का कार्य संभव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि बुधवार को नई दिल्ली में दूसरी बार रेलमंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात कर यह जमीन बिहार सरकार को सौंपने का आग्रह किया था। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि रेलमंत्री गोयल ने महज 24 घंटे के अंदर अपने आश्वासन को पूरा किया है।

सुप्रीम कोर्ट का निर्णय, यूपीपीएससी की मुख्य परीक्षा 18 को 

उन्होंने कहा कि रेलमंत्री की सहमति से आर ब्लॉक-दीघा के बीच 150 साल पुरानी रेलवे ट्रैक की छह किलोमीटर लम्बी और 30 मीटर चौड़ी जमीन पर अब सडक़ निर्माण संभव हो सकेगा।  मोदी ने कहा कि पूर्व में इस 71 एकड़ जमीन का रेलवे ने बाजार दर पर 896 करोड़ रुपए मूल्य तय किया था। लेकिन, केन्द्र में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सरकार बनने के बाद इसके पुनर्मूल्यांकन के बिहार सरकार के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया गया।

अध्यापक ने छात्रा से किया ये घिनौना काम, मेडिकल रिपोर्ट में निकली सात महीने की गर्भवती

इसके आधार पर पुनर्मूल्यांकित दर 221 करोड़ रुपए तय किया गया है।  उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सडक़ निर्माण होने से आर ब्लॉक से दीघा की दूरी न केवल दो किलोमीटर कम हो जाएगी बल्कि समय की भी बचत होगी। साथ ही करीब बारह मौहल्लों के वासियों को दीघा-आर ब्लॉक आने-जाने में सहूलियत होगी। उन्होंने कहा कि इस सडक़ के बन जाने से बेली रोड पर यातायात का दबाव कम होगा और पटना को एक नई सडक़ उपलब्ध हो जाएगी।
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.