बिहार के लाल का आज 71वां जन्मदिन, जानिए क्यों लालू ने इस्तीफा देकर राबड़ी देवी को बनाया था CM

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 04:27:43 PM
Today's 71st birthday in Bihar's Lal, know why Laloo had resigned to Rabri Devi.

सिटी डेस्क। राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव आज 71 साल के हो गए हैं। आज दिनभर उनको बधाई देने वालों क तांता लगा रहा। बिहार के मुख्यमंत्री और लालू यादव के राजनैतिक विपक्षी नेता नीतीश कुमार ने भी जन्मदिन की बधाई दी। इसके साथ ही पार्टी के विधायकों, मंत्रियों सहित पक्ष-विपक्ष के कई बड़े नेताओं ने लालू यादव को बधाई दी। पार्टी कार्यकर्ताओं ने 71 पाउंड का केक बनवाया साथ ही उन्हें बैनर-पोस्टर के माध्यम से भी बधाई  दी गई। लालू यादव का जन्मदिन 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास पर मनाया गया। 

देश भाजपा और आरएसएस का गुलाम बनता जा रहा हैं : राहुल गांधी

लालू प्रसाद यादव के जन्मदिन के अवसर पर कई जगह रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। लालू के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने कहा कि पिताजी अस्‍वस्‍थ हैं, इसलिए वे नहीं आ सके। आपको बता दें कि राजद प्रमुख को चारा घोटाला के कई मामलों में सजा पाने के बाद इन दिनों वे इलाज के लिए जमानत पर हैं।

विपक्ष की राजनीति उभर रही है मजबूत बनकर 

लालू प्रसाद यादव का जीवन परिचय :-

- इनका जन्म 11 जून 1948 को बिहार के गोपालगंज में एक यादव परिवार में हुआ। 
- 1 जून 1973 को राबड़ी देवी से शादी की। 
- इनके नौ बच्चे हैं जिनमे दो बेटे और सात बेटियां हैं। 
- इन्होने राजनीती की शुरुआत एक छात्र नेता के तौर पर की। 
- उस दौरान ही जयप्रकाश नारायण के आंदोलन से जुड़े।
- 1977 में आपातकाल के बाद मात्र 29 साल की उम्र में छपरा से सांसद बने। 
- 1980 में पहली बार बिधायक बने। 

बंगलों में समान चोरी होने पर पूर्व मुख्यमंत्रियों को मिलेगा नोटिस 

- 1990 में बिहार के मुख्यमंत्री बने। 
- 1995 में भी भारी बहुमत से जीत हासिल की और सीएम बने। 
- जुलाई, 1997 में राष्ट्रीय जनता दल के नाम से नयी पार्टी बना ली।
- चारा घोटाला के कारन उन्होंने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया और पत्नी राबड़ी देवी को मुख्यमंत्री बना दिया। 
- इसके लिए उनको कांग्रेस और झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का समर्थन लेना पड़ा। 

201 लड़कियों को हायर एजुकेशन के लिए फ्री स्कॉलरशिप पोस्टर का हुआ विमोचन

- 1998 में केन्द्र में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार बनी।
- 2000 के विधानसभा चुनाव में राजद बहुमत हासिल नहीं कर पाई। नीतीश कुमार की सरकार बनी लेकिन 7 दिन ही चली। एक बार फ़िर राबड़ी देवी मुख्यमन्त्री बनीं। 
- 2004 के लोकसभा चुनाव में लालू प्रसाद एक बार फिर ने लालू मुख्य भूमिका में आये और रेलमन्त्री बने। 

समाजवादी बसपा के लिए सीटें त्यागने को तैयार

- 1990 में चारा घोटाला मामला हुआ। 
- पशुओं के चारे के नाम पर चाईबासा ट्रेज़री से 37.70 करोड़ रुपए निकालने का आरोप लगा।
- लालू यादव और जगन्नाथ मिश्रा को दोषी करार दिया गया। 
- 6 जनवरी 2018 को स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने लालू प्रसाद को चारा घोटाला मामले में साढ़े तीन साल की सजा और पांच लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।
- फिलहाल लालू यादव इलाज के लिए पैरोल पर बाहर हैं। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.