दाती महाराज की मुसिबतें बढ़ी

Samachar Jagat | Tuesday, 10 Jul 2018 07:55:12 PM
dati Maharaj's troubles grew

जयपुर।  राज्य महिला आयोग के बाद पाली जिला प्रशासन को भी दाती महाराज के आलावास आश्रम की प्राथमिक जांच में कई अनियमितताएं मिली हैं। आयोग ने प्रशासन को 10 दिन में जांच कर विस्तृत रिपोर्ट सौपने के निर्देश दिए थे।

नाबालिग से एक ही दिन में दो बार गैंगरेप

दिल्ली उच्च न्यायालय में बुधवार को दाती महाराज मामले को सीबीआई को सौंपने को लेकर सुनवाई होगी।  राजस्थान महिला आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा ने  बताया कि पाली जिला प्रशासन को प्राथमिक जांच में आलावास आश्रम में कई खामियां मिली हैं।

पाली जिला कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा ने बताया कि हमने आश्रम के बारे में स्कूल और उच्च शिक्षा विभाग को एक रिपोर्ट देने को कहा है। जांच लगभग पूरी हो गई है। प्रशासन जल्द विस्तृत रिपोर्ट आयोग को सौंप देंगा।

गत 21 जून को राजस्थान राज्य महिला आयोग को पाली जिले के आलावास स्थित आश्वासन बाल ग्राम संस्थान के स्कूल, कॉलेज और होस्टल में निरीक्षण के दौरान कई अनियमितताएं मिलीं थी।

इन कारनामों से मुन्ना बजरंगी बन गए थे अपराधों के बादशाह 

रिपोर्ट के अनुसार संस्थान प्रबंधन शिक्षण संस्थान और होस्टल चलाने के लिए किसी प्रकार का अनापत्ति प्रमाण पत्र नहीं दिखा पाया। संस्थान में 153 लड़कियों के प्रवेश नामांकन के बजाय आयोग ने आश्रम में 253 लड़कियां मौजूद पाईं।

स्कूल में दाखिले के समय कई सरकारी दस्तावेजों में दर्ज छात्रों के नाम का उनके माता-पिता के नाम से मिलान नहीं हो पाया। कुछ मामलों में लड़कियों की जन्म तारीख भी अलग थी।

रिपोर्ट के अनुसार आश्वासन ग्रुप की कार्यकारिणी में कई आईएएस और आईपीएस अधिकारियो के नाम शामिल हैं।

पटेल बनने के वर्चस्व में खूनी संघर्ष, एक मृत 3 जख्मी, सात गिरफ्तार

उल्लेख है कि दांती महाराज पर बलात्कार पीडि़त युवती ने आरोप लगाया है कि करीब दो साल पहले दाती महाराज ने छतरपुर स्थित शनिधाम मंदिर के आश्रम में उनके साथ पहली बार बलात्कार किया था।

बाद में उसके तीन भाइयों ने भी आश्रम में हवस की आग बुझाई। धमकी के डर से उन्होंने दो साल तक किसी को भी यह घटना की जानकारी नहीं दी। घटना की जानकारी परिजनों बताने पर और उनके कहे अनुसार 10 जून को फतेहपुरबेरी थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.