संपत्ति के विवाद में माकपा नेता की हत्या

Samachar Jagat | Wednesday, 14 Mar 2018 01:17:44 PM
dispute of property Killing of CPI (M) leader

इटावा। उत्तर प्रदेश के इटावा में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के जिला मंत्री कामरेड छवि मोहन शुक्ला की संपत्ति विवाद के चलते धारदार हथियार से हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने इस सिलसिले में आरोपी भांजे को गिरफ्तार कर लिया है।

भारत-पाक सीमा से 45 करोड़ की हेरोइन के साथ तस्कर गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश किसान सभा के महामंत्री मुकुट सिंह ने कामरेड शुक्ला (35) की हत्या की पुष्टि करते हुए बताया कि कामरेड अपनी बहन के यहॉ पडौसी जिले आगरा के चित्रहाट इलाके के कचौराघाट गांव गए हुए जहॉ पर कल शाम उनके भांजे ने कुल्हाडी मार कर उनकी निर्ममतापूर्वक हत्या कर दी।

किशोरी को बनाया हवस का शिकार, एक गिरफ्तार

इटावा में बकेवर इलाके के निवासी शुक्ला का भांजे के साथ पैतृक संपत्ति को लेकर विवाद हो गया जिस पर उसमें कुल्हाड़ी से काटकर शुक्ला की निर्मलता पूर्वक हत्या कर दी। बताया गया है कि शुक्ला के पिता रमेश चंद्र शुक्ला की दो शादियां हुई थी। पहली शादी से पैदा हुई तीन बेटियों के नाम रमेश चंद्र शुक्ला ने जमीन की वसीयत काफी समय पहले कर दी थी लेकिन छवि मोहन के दखल के बाद वह वसीयत रदद कर दी गई।

नौकरानी मुहैया कराने का प्रलोभन देकर लोगों को ठगने के मामले में 11 गिरफ्तार

इसी जमीन को छवि मोहन शुक्ला ने करीब डेढ़ करोड़ रुपए से अधिक में बेच दिया। इससे पहले अपने भांजे अंकित को बकेवर में कोल्ड ड्रिक की एजेंसी दिलवाई थी। आपसी विवाद होने के बाद शुक्ला का भांजा अंकित यहां से एक फ्रिज और चिलर लेकर के चला गया जिसको वापस लाने के लिए छवि मोहन शुक्ला अहेरीपुर के आशु बाजपेई,शरद शुक्ला और पुत्ती बाजपेई के साथ कचौरा घाट गए हुए थे।

छात्राओं के साथ अश्लील हरकत, विरोध करने पर देता फेल करने की धमकी

उन्होंने स्थानीय थाना पुलिस से भी इस बाबत मदद ली। पुलिस की मदद से दोनों पक्षों के बीच आपस में सुलह समझौता हो गया लेकिन जैसे ही शुक्ला फ्रिज और चिलर को लोडर में रखवा रहे थे वैसे ही उनके भांजे अंकित ने शुक्ला के ऊपर कुल्हाड़ियों से प्रहार कर दिया जिससे शुक्ला मरणासन्न हालत में उसी स्थान पर गिर पड़े।

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.