प्रधानी के चुनाव में झूठा शपथ पत्र देने वाले को चार साल की सजा

Samachar Jagat | Thursday, 06 Dec 2018 09:24:32 AM
False affidavit for four years in jail

संतकबीरनगर। उत्तर प्रदेश में संतकबीरनगर की जिला अदालत ने ग्राम प्रधान के चुनाव में झूठा शपथपत्र देने के आरोपी को चार साल की सजा का आदेश दिया है। अभियुक्त पर सजा के अलावा सात हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। यह मामला संतकबीरनगर जिले के बेलहर ब्लाक के ग्राम पकरी आराजी का है। बेलहर ब्लाक क्षेत्र के ग्राम पकरी आराजी निवासी हफीज अहमद ने सीजेएम कोर्ट में धारा 156 (3) दप्रसं के तहत प्रार्थना पत्र दिया था। पत्र में उनका आरोप था कि वर्ष 2010 में गांव का तुफैल अहमद भी प्रधान पद का प्रत्याशी था। उसने झूठा शपथपत्र दिया था।

इस मामले में अदालत के आदेश पर मुकदमा दर्ज किया गया दिया। विवेचना के बाद पुलिस ने न्यायालय में आरोप पत्र प्रेषित किया। मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी (सीजेएम) अदालत ने धारा 181, 193, 199, 417, 420, 465 , 468 भादवि का आरोप तय किया। कोर्ट ने अलग-अलग धाराओं में सजा सुनाया है। धारा 420 एवं धारा 468 में चार - चार साल की सजा और धारा 417 में एक साल एवं शेष धाराओं में दो - दो साल जेल की सजा का आदेश दिया है। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.