लुधियाना: यूट्यूब से सीखा नकली नोट छापने का तरीका, दोस्तों ने शुरू किया काला कारोबार

Samachar Jagat | Thursday, 19 Sep 2019 02:01:20 PM
Ludhiana: learned how to print fake notes from youtube, friends started black business

इंटरनेट डेस्क। एसटीएफ ने नकली नोट छापने वाले दो दोस्तों को गिरफ्तार कर 1.69 लाख की करंसी बरामद की है। यह काला कारोबार मुल्लांपुर के नजदीक गांव रकबा स्थित एक घर की छत पर बने कमरे में चल रहा था। यूट्यूब से नकली नोट छापने का तरीका जानने के बाद ही आरोपितों ने यह गोरखधंधा शुरू किया था। आरोपित नशा तस्करों को असली नोट के बदले तीन गुना नकली नोट मुहैया करवाते थे और इन पैसों से दिल्ली से नशा खरीद यहां महंगे भाव में बेचते थे।

महिला के सामने गंदी हरकत करने वाला ऑटो रिक्शा चालक गिरफ्तार

एसटीएफ ने मुल्लांपुर की पुलिस को साथ लेकर छापेमारी की थी और वहां से प्रिंटर, इंक और नोट बनाने के लिए इस्तेमाल होने वाला कागज भी बरामद किया है। दो दिन पहले एसटीएफ ने सतपाल सिंह उर्फ सत्ता को एक किलो ग्राम हेरोइन के साथ काबू किया था। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि वह नकली नोटों से नशा खरीदते थे और इसके लिए वह मुल्लांपुर दाखा के नजदीकी गांव रकबा के दो युवकों से नकली नोट लेते थे। एसटीएफ ने इस संबंधी मुल्लांपुर की पुलिस को जानकारी दी। दोनों की सांझा टीम ने मंगलवार की देर शाम गांव रकबा में डेरा शहीद सिंघां के पास बने घर में छापामारी की तो वहां छत पर बने कमरे से हरविंदर सिंह हैरी और बलविंदर सिंह गैरी को काबू किया। कमरे में प्रिंटर और स्कैनर लगाकर नकली नोट बनाने का काम कर रहे थे।

ब्वॉयफ्रेंड संग फिल्म देख रही शादीशुदा प्रेमिका के सामने आ गया पति

जांच अधिकारी सब इंस्पेक्टर अजायब सिंह ने बताया कि दोनों आरोपित बचपन के दोस्त हैं। बलविंदर गैरी दसवीं पास है और हरविंदर सिंह हैरी 12वीं पास है। दोनों के पास कोई काम नहीं था तो वह यूट्यूब से वीडियो देखकर नकली नोट तैयार करने लगे थे। वह पिछले करीबन एक साल से इस काम में लगे हुए थे। यह पैसा मार्केट में चला नहीं पा रहे थे तो उन्होंने तस्करों के साथ मिलकर यह काम शुरू कर दिया। पुलिस का कहना है कि सभी नोट 100 व 200 के हैं। आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। इसके अलावा यह भी पता लगाया जा रहा है कि किस इस धंधे में और कितने लोग संलिप्त हैं।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.