नाबालिग लड़कियों से छेड़छाड़ के दो दोषियों को चार साल कारावास

Samachar Jagat | Monday, 12 Feb 2018 12:31:27 PM
Two convicts of minor girls committing four years imprisonment
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures

ठाणे। ठाणे की एक अदालत ने दो व्यक्तियों को अपने पड़ोस में रहने वाली दो नाबालिग लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करने के जुर्म में चार साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश संगीता सी खलिपे ने एक ऑटोरिक्शा चालक श्याम हितेन्द्र चव्हाण (36) और एक श्रमिक प्रदीप गायकवाड़ (28) को सजा सुनायी। 

जमीन हड़पे जाने पर दलित व्यक्ति ने किया आत्महत्या का प्रयास, मामला दर्ज

अदालत ने इन दोनों पर दो-दो हजार रूपये का जुर्माना भी लगाया। अभियोजन पक्ष के मुताबिक, पिछले साल सात अप्रैल को शहर के वागले इस्टेट इलाके में स्थित साठे नगर में नौ वर्षीय और पांच वर्षीय दो लड़कियां अपने-अपने घरों में खेल रही थीं। अभियोजन पक्ष ने बताया कि आरोपी इन लड़कियों के जानकार थे और इसी इलाके में रहते थे। वह ऑटोरिक्शा में वहां पहुंचे, दोनों लड़कियों को लेकर एक सुनसान जगह पर चले गये जहां पर उनके साथ छेड़छाड़ की। आरोपियों ने बाद में लड़कियों को उनके घरों में छोड़ दिया। 

बलिया पुलिस ने छापा मारकर की 205 पेटी शराब बरामद

दोनों लड़कियों ने अपने अपने अभिभावकों को घटना के बारे में बताया जिन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद आरोपियों को पकड़ लिया गया। इनके खिलाफ भादंसं की धारा 354 (छेड़छाड़) और 363 (अपहरण) और यौन अपराधों से बच्चों की सुरक्षा कानून (पोक्सो) के प्रावधानों से संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया गया था। न्यायाधीश खलिपे ने बचाव पक्ष के वकीलों की दलीलों को खारिज कर दिया।

शर्मसार! चलती बस में लड़की के साथ हुई घिनौनी हरकत

उन्होंने पाया कि अभियोजन पक्ष ने साबित कर दिया कि आरोपी खेल रही दोनों लड़कियों का अपहरण करने के इरादे से उनको जबरन ऑटो रिक्शा में ले गये। न्यायाधीश ने कहा कि उन्होंने लड़कियों को आइसक्रीम का प्रलोभन दिया और छेड़छाड़ की। पिछले सप्ताह अपने आदेश में उन्होंने कहा, ‘‘अपराध की प्रकृति को देखते हुये मुझे ऐसा नहीं लगता कि नरमी बरती जानी चाहिए।’’-एजेंसी 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the lend of Sun, Send and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.