सिनेमा को साहित्य की तरह मानती है सीमा कपूर

Samachar Jagat | Thursday, 17 Nov 2016 09:49:18 PM
सिनेमा को साहित्य की तरह मानती है सीमा कपूर

पटना। बॉलीवुड अभिनेता ओम पुरी की पत्नी और निर्देशक सीमा कपूर सिनेमा को साहित्य की तरह मानती है और उनका कहना है जिस तरह साहित्य रचना के बाद लोगों के पास जाती है, उसी तरह सिनेमा बनने के बाद दर्शकों के सामने प्रदर्शित की जाती है।

बिहार राज्य फिल्म विकास एवं वित्त निगम लिमिटेड एवं कला संस्कृति एवं युवा विभाग बिहार द्वारा 15 नवंबर से यहां आयोजित छह दिवसीय क्षेत्रीय फिल्म फेस्टिवल 2016 के तीसरे दिन शिरकत करने आयी सीमा कपूर की राजस्थानी फिल्म हाट द वीकली बाजार दिखायी गयी हैं ।फिल्म में दिव्या दत्ता ने मुख्य भूमिका निभायी है।

सीमा कपूर ने यहां फिल्म के प्रदर्शन के बाद सवाल-जवाब सत्र के दौरान पत्रकारों से बातचीत में कहा सिनेमा साहित्य की तरह है। जैसे साहित्य की रचना के बाद लोगों के पास जाती है, उसी तरह सिनेमा बनने के बाद दर्शकों के सामने प्रदर्शित की जाती है। फिर दौर आता है पसंद - नापसंद का। हिट और फ्लॉप का। हालांकि फिल्म के पाठक नहीं, दर्शक होते हैं। ईश्वर के बाद लेखक ही सृजन करते हैं ।

सीमा कपूर ने फिल्म की चर्चा करते हुये कहा कि हाट द वीकली राजस्थानी समाज में एक कुप्रथा पर आधारित फिल्म है, जिसमें औरतों को अपने पति से अलग होने का अधिकार नहीं है।यदि वे ऐसा करना चाहें भी तो पंचयात मर्दों को इसके बदले मुआवजा महिलाओं से दिलवाती है। कहानी महिलाओं पर शोषण के खिलाफ जागरूकता के लिए तैयार की गई है।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.