धार्मिक भावनाओं को आहत करने के मामले में फिल्म जीरो के निर्माताओं ने दी अपनी सफाई, कही ये बात!

Samachar Jagat | Saturday, 01 Dec 2018 05:58:58 PM
film mekar said shahrukh khan has caught the sword in Zero, not Saber

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

मुंबई। जीरो फिल्म के निर्माताओं ने बम्बई उच्च न्यायालय को शुक्रवार को बताया है कि फिल्म के पोस्टर और ट्रेलर में अभिनेता शाहरूख खान ने तलवार पकड़ी हुई है न कि कृपाण। अधिवक्ता अमृतपाल सिंह खालसा की ओर से दायर याचिका में यह दावा किया गया है कि सिनेमा के ट्रेलर और पोस्टर से सिख समुदाय की भावनाएं आहत हुई है।


priyanka nick wedding : कौन करेगा प्रियंका का कन्यादान, हल्दी सेरेमनी, फैमिली मैच और कौन मेहमान पहुंचे उम्मेद भवन ये जानने के लिए पढ़ें पूरी खबर

मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति बीपी धर्माधिकारी और एस वी कोटवाल की खंडपीठ में हो रही है। इस महीने की शुरू में दायर याचिका में फिल्म के निर्देशक और निर्माताओं को उस दृश्य को हटाने का निर्देश देने की मांग की गई थी जिसमें शाहरूख कृपाण (छोटी तलवार अथवा एक डैगर, जिसे सिख समुदाय के लोग हमेशा अपने पास रखते हैं) पकड़े दिखाई दे रहे हैं।

जन्मदिवस विशेष: आमिर और शाहरुख की आवाज बनने से पहले उदित नारायण को भी इतने साल तक करना पड़ा था संघर्ष

इस याचिका में केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड को प्रमाण पत्र नहीं देने का निर्देश देने की मांग की गई है और अगर यह दिया गया है तो इसे वापस लेने का निर्देश देने की भी मांग की गई है। शाहरूख खान, निर्माताओं गौरी खान तथा करूणा बदवाल और निर्देशक आनंद एल राय की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता नवरोज सरवाई ने शुक्रवार को अदालत को बताया है कि यह याचिका पूरी तरह से गलत धारणा पर आधारित है। उन्होंने अदालत को बताया फिल्म में मुख्य अभिनेता ने जो पकड़ा है वह कृपाण नहीं है।

प्रियंका की शादी का कार्ड सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, क्या देखा आपने

यह एक साधारण तलवार है। इसके बाद अदालत ने यह जानना चाहा कि क्या फिल्म को सेंसर बोर्ड से प्रमाण पत्र मिल चुका है। इस पर बोर्ड के अधिवक्ता ए सेठाना ने बताया कि यह अभी लंबित है। उन्होंने अदालत को यह भी बताया कि जिस पोस्टर पर सवाल किया गया है वह उस ट्रेलर का हिस्सा नहीं है जिसे निर्माताओं ने प्रमाण पत्र के लिए जमा कराया है। अदालत ने बोर्ड से कहा कि सिनेमा के प्रमाण पत्र देने पर विचार करने से पहले आरोपों तथा याचिका में उठाए गए बिंदुओं की जांच करने का निर्देश दिया है। खंड पीठ मामले की अगली सुनवाई 18 दिसंबर को करेगा। सिनेमा को 21 दिसंबर को जारी किया जाना है।
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.