फिल्म समीक्षा : इंग्लिश को स्टेटस सिंबल मानने वालो के मुंह पर तमाचा है 'हिंदी मीडियम'   

Samachar Jagat | Friday, 19 May 2017 11:20:27 AM
फिल्म समीक्षा : इंग्लिश को स्टेटस सिंबल मानने वालो के मुंह पर तमाचा है 'हिंदी मीडियम'   

मुंबई। इस शुक्रवार सिनेमाघरो में रीलिज हुई है बॉलीवुड एक्टर इरफान खान और पाकिस्तानी अदाकारा सबा कामर की हिंदी मीडियम। जो स्कूलो में एडमिशन की समस्या को बखूबी दिखाती हैं। इस फिल्म को निर्देशित किया है बॉलीवुड के नामी निर्देशक साकेत चौधरी ने। फिल्म का निर्माण किया है भूषण कुमार और दिनेश विजन ने। फिल्म के कलाकारो की बात करें तो फिल्म में इरफान खान, सबा कामर, अमृता सिंह, दीपक डोबरियाल, स्वाति दास, दिशित सहगल जैसे कलाकार फिल्म में नजर आएंगे।

'सचिन ए बिलियन ड्रीम्स' को इन राज्यो ने किया टैक्स फ्री 

जैसा कि फिल्म के ट्रेलर से ही फिल्म के बारे मे अंदाजा लगाया जा सकता है कि ये समाज की उस हकीकत से रुबरु कराती है जिसमे लोग हिंदी मीडियम से पढ़े हैं, मगर अपने बच्चों के लिए वह आज की आवश्यकता को देखते हुए इंग्लिश मीडियम में पढ़ाने की चाहत रखते है। फिल्म में इंग्लिश किस तरह आज के दौर का स्टेटस सिबंल बन चुका है इसे बखूबी फिल्म में दिखाया गया है। डालते है एक नजर फिल्म की कहानी पर। 

एक नजर फिल्म की कहानी पर- 

हिंदी मीडियम फिल्म में इरफान खान राज बत्रा के किरदार में नजर आते है, वहीं पाकिस्तानी अभिनेत्री सबा कामर फिल्म में इरफान उर्फ राज की पत्नी मीता का किरदार निभा रही है। राज दिल्ली में एक कपड़ो की दुकान चलाता है। जिसकी पढ़ाई हिंदी मीडियम स्कूल से होती है। मगर वहीं मीता इंग्लिश मीडियम स्कूल से पढ़ी होती हैं। मगर आज के जमाने की तस्वीर को देखते हुए मीता अपनी बेटी पिया का एडमिशन एक अच्छे अंग्रेजी मीडियम स्कूल में करवाना चाहती है।

Cannes 2017 : RK टैटू के साथ रेड कारपेट पर ग्लैमरस लुक में नजर आई दीपिका

बस यहीं से शुरु होती है फिल्म की असल कहानी। एडमिशन के लिए पेरेंट्स इंटरव्यू में ये कपल फेल हो जाते है। मगर फिर भी हार नहीं मानते है और अपनी बेटी के एडमिशन के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा देते हैं। जब सारी जद्दोजहदें करने के बाद भी निराशा हाथ लगती है तब ये एकमात्र बचे सहारे गरीब कोटे का इस्तेमाल करते है। फिल्म की कहानी में कई ऐसे ट्विस्ट आते है जो फिल्म को बेहद मंनोरंजक और संस्पेस से भर देते है। आखिरकार मीता और राज की बेटी का एडमिशन हो पाता है या नहीं ये देखने के लिए दर्शको को सिनेमाघरो का रुख करना होगा।

अभिनय 

फिल्म में कलाकारो के अभिनय की बात करे तो सभी अपने रोल में फिट नजर आ रहे है। इरफान खान ने हमेशा की तरह इस फिल्म में अपने अभिनय से समां बांध दिया। समा कामर की एक्टिंग फिल्म में बेहतरीन है। यह फिल्म उनके बॉलीवुड करियर के लिए अच्छी साबित हो सकती है।

‘सिमरन’ विवाद पर निर्माता शैलेश सिंह ने दिया ये बयान

फिल्म की कहानी दमदार है। सामान्य होने के बावजूद इसे साकेत ने बड़े पर्दे पर बेहतरीन ढंग से पेश किया है। फिल्म में कई डायलॉग फिल्म में तड़का लगाते है। जिन्हें सुनकर बेशक आप हंसी ना रोक पाए। इसमे कोई शक नहीं है कि फिल्म के गानो को पहले से ही श्रोताओं का प्यार मिला है, और उन्हें बेहद सराहा भी गया है।

source - google  

 
loading...


ताज़ा खबर

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.