Happy Mother's Day : बॉलीवुड फिल्मकारों ने मां के सशक्त किरदार को बखूबी पेश किया

Samachar Jagat | Sunday, 12 May 2019 10:57:12 AM
Filmmakers presented the strong character of the mother

मुंबई। बॉलीवुड के फिल्मकारों ने मां के सशक्त किरदार को अपनी फिल्मों में बखूबी तरीके से पेश किया है और इन फिल्मों में मां के सशक्त किरदार को दर्शकों ने बेहद पसंद किया है। हर साल मई के दूसरे रविवार को दुनिया भर में मदर्स डे मनाया जाता है। सिल्वर स्क्रीन पर मां का किरदार निभाने वाली अभिनेत्रियों में सबसे पहला नाम जो जेहन में आता है वो है निरूपा राय का। निरूपा राय ने कई फिल्मों में मां के सशक्त किरदार को रूपहले पर्दे पर शानदार तरीके से पेश किया है। वर्ष 1955 में 'मुनीम जी’ और वर्ष 1961 में फिल्म 'छाया’ में मां के प्रभावशाली किरदार को रूपहले पर्दे पर जीवंत करने के लिए निरूपा राय को सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। 

Rawat Public School

दिशा को बहुत अच्छी दोस्त मानते हैं टाइगर

वर्ष 1975 में प्रदर्शित फिल्म 'दीवार’ में निरूपा राय ने अच्छाई और बुराई का प्रतिनिधित्व करने वाले शशि कपूर और अमिताभ बच्चन की मां की भूमिका निभाई थी। इस फिल्म में निरूपा राय ने मां के किरदार को इतनी शिद्दत के साथ निभाया कि लोग निरूपा राय को अमिताभ बच्चन की फिल्मी मां के नाम से जानने लगे। इसके बाद निरूपा राय ने 'खून पसीना’ , 'मुकद्दर का सिकंदर’, 'अमर अकबर अंथोनी’, 'सुहाग’, 'इंकलाब’, 'गिरफ्तार’ , 'मर्द’ और 'गंगा जमुना सरस्वती’ जैसी कई फिल्मों में अमिताभ की मां की भूमिका निभाई। कौन भूल सकता है वर्ष 1957 में प्रदर्शित फिल्म 'मदर इंडिया’ में नरगिस की भूमिका को। इस फिल्म में नरगिस ने सुनील दत्त और राजेन्द्र कुमार की मां की भूमिका को जीवंत किया था। इस फिल्म में नरगिस ने एक ऐसी मां का किरदार निभाया जो अपने पुत्र के अन्याय करने पर उसे जान से मारने से भी नहीं हिचकती है। इस फिल्म में नरगिस को सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया। बॉलीवुड की फिल्मों में काम करने वाली पहली मिस इंडिया नूतन ने भी कई फिल्मों में मां के किरदार को रूपहले पर्दे पर खूबसूरती के साथ साकार किया है।

इन फिल्मों में'मेरी जंग','नाम','मुजरिम','युद्ध’और'कर्मा’जैसी फिल्में खास तौर पर उल्लेखनीय हैं। फिल्म मेरी जंग में अपने सशक्त अभिनय के लिए नूतन सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के पुरस्कार से भी सम्मानित की गई। सत्तर और 80 के दशक की जानी मानी अभिनेत्री राखी ने भी कई फिल्मों में मां के दमदार चरित्र को रूपहले पर्दे पर साकार किया है। अमिताभ बच्चन के साथ अभिनेत्री के रूप में काम करने वाली राखी ने फिल्म 'शक्ति' में उनकी मां का किरदार बेहद ही प्रभावशाली तरीके से निभाया था। यदि निरूपा राय को अमिताभ की मां कहा जाता है तो राखी अनिल कपूर की फिल्मी मां थी। 'राम लखन', प्रतिकार', 'जीवन एक संघर्ष में’राखी अनिल कपूर की मां बनी थीं।'खलनायक', सोल्जर, बार्डर, करण-अर्जुन, बाजीगर और अनाड़ी जैसी फिल्मो में भी राखी ने मां का किरदार सशक्त तरीके से निभाया था।

शुभ मंगल सावधान का बनेगा सीक्वल, आयुष्मान खुराना इसमें आएंगे नजर

नब्बे के दशक में रीमा लागू ने कई फिल्मों में मां के किरदार को प्रभावशाली तरीके से रूपहले पर्दे पर पेश किया है। रीमा लागू को कई फिल्मों में दबंग स्टार सलमान की मां के रूप में देखा गया है। इनमें मैने प्यार किया, साजन,हम साथ साथ हैं, जुड़वा और पत्थर के फूल जैसी सुपरहिट फिल्में शामिल हैं। रीमा लागू की मां की भूमिका वाली अन्य फिल्मों में कयामत से कयामत तक, आशिकी, हम आपके हैं कौन, कुछ कुछ होता है आदि शामिल हैं। इसी तरह बॉलीवुड की फिल्मों में कई अभिनेत्रियों ने मां के किरदार को रूपहले पर्दे पर पेश किया है। इनमें लीला चिटनिश, दुर्गा खोटे, दीना पाठक,वहीदा रहमान, आशा पारेख, हेमा मालिनी, रेखा, जया भादुड़ी, डिपल कपाडिया,रति अग्निहोत्री और किरण खेर आदि शामिल हैं। -एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.