बसंती का किरदार आज भी महिला सशक्तीकरण का प्रतीक है : हेमा

Samachar Jagat | Saturday, 08 Dec 2018 06:47:20 PM
Hema Malini said basanti's character still a symbol of empowerment of women

नई दिल्ली। बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी का कहना है कि फिल्म शोले में उनका निभाया किरदार आज भी महिला सशक्तीकरण का प्रतीक बना हुआ है। हेमा ने वर्ष 1975 में प्रदर्शित फिल्म शोले में बसंती का आइकॉनिक किरदार निभाया था।

मुकेश अंबानी की बेटी के शादी समारोह में शामिल होने के लिए उदयपुर पहुंची बॉलीवुड और क्रिकेटरों सहित कई बड़ी हस्तिया

उन्होंने कहा कि ‘शोले’ फिल्म में उनका निभाया किरदार ‘बसंती’ 43 साल बाद भी महिला सशक्तीकरण का प्रतीक बना हुआ है। हेमा ने कहा बसंती बॉलीवुड फिल्मों की पहली ऐसी महिला (किरदार) है जो तांगा चलाती है, आज की तारीख तक वह महिलाओं के सशक्तीकरण का प्रतीक बनी हुई है।

प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस पर लिखे लेख पर ‘द कट’ की लेखिका ने मांगी माफी

हेमा ने कहा है कि अब मैं जब भी प्रचार के लिए जाती हूं, तो मैं वहां मौजूद महिलाओं को बताती हूं कि उनका योगदान बसंती तांगेवाली से कम नहीं है। महिलाएं कठोर परिश्रम करती हैं और आदिवासी मेहनत करते हैं, उन्हें नमन है।

कमाई के मामले में इन फिल्मों से आगे आई 2.0, जानिए पहले सप्ताह की कमाई

मेरे डांस शो में आने वाले लोग मेरे डांस नंबर्स देखते हैं लेकिन जब भी मैं प्रचार के लिए निकलती हूं तो लोग मुझे इसलिए देखने आते हैं क्योंकि मैं बॉलीवुड कलाकार हूं। मैंने कई फिल्मों में काम किया लेकिन लोगों को शोले ही याद है। ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि यह कैरेक्टर फेमस हो गया था।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.