अब व्यक्ति को उसके काम से जाना जाता है ना कि बाप के नाम से : ओबरॉय

Samachar Jagat | Tuesday, 21 May 2019 10:29:01 AM
Now the person is known by his work, not by the name of the father Vivek Oberoi

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नागपुर। अभिनेता विवेक ओबरॉय ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में भारत काफी बदल गया है और अब किसी भी व्यक्ति को उसके काम से जाना जाता है ना कि पारिवारिक विरासत से। वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक 'पीएम नरेंद्र मोदी’ के एक पोस्टर के लांच के मौके पर बोल रहे थे। इस पोस्टर को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने लांच किया। ओबरॉय ने इस फिल्म में अहम भूमिका निभाई है।

सैफ अली खान की ‘लाल कप्तान’ सितंबर में रिलीज होगी

उन्होंने बताया कि फिल्म इस शुक्रवार को 40 देशों में रिलीज होगी। ओबरॉय ने कहा कि वह फिल्म में ''महान व्यक्ति’’ (मोदी) का किरदार निभाने का मौका पाकर सौभाग्यशाली महसूस कर रहे हैं और खुश हैं कि इसका पोस्टर वरिष्ठ भाजपा नेता गडकरी ने लांच किया। उन्होंने कहा, दोनों ही असली 'कर्मयोगी’ और नायक हैं। पिछले पांच वर्षों में भारत काफी बदला है। मुझे लगता है कि 'अब आपके बाप का नाम नहीं..काम चलेगा।

ओबरॉय ने कहा कि उन्होंने बायोपिक की रिलीज में काफी मुश्किलों का सामना किया है लेकिन न तो वे फिल्म और ना ही प्रधानमंत्री मोदी को रोक सके। उन्होंने बिना कोई नाम लिए कहा, मैं नहीं जानता कि वे किससे डरे हुए हैं-फिल्म से या चौकीदार के डंडे से? जिन लोगों के खिलाफ बड़े मामले हैं और अदालत में दिखाई नहीं देते, वे हमें अदालत में घसीट ले गए।

बॉलीवुड में पहचान बनाने में काफी संघर्ष किया : शिल्पा

उन्होंने कहा, 23 तारीख आ रही है..इनका टाइम आएगा..यही कहना चाहूंगा शहजादे जी अब होगा न्याय। एक सवाल के जवाब में उन्होंने उनकी फिल्म को फिल्म उद्योग से समर्थन ना मिलने पर खेद जताया। अभिनेता ने कहा, एकता के लिए कोशिशें की जानी चाहिए वरना हमें आसानी से निशाना बनाया जाता रहेगाा।

फिल्म के प्रोड्यूसर संदीप सिंह ने कहा कि वह गडकरी पर भी एक बायोपिक बनाना चाहते हैं लेकिन नेता इसे लेकर इच्छुक नहीं हैं। इस मौके पर गडकरी ने कहा कि यह फिल्म युवा पीढ़ी को प्रेरित करेगी। उन्होंने राजग सरकार के विभिन्न विकास कार्यों को गिनाते हुए कहा, मोदीजी ने भारत को दुनियाभर में पहचान और सम्मान दिलाया। जो चीजें पिछले 50 वर्षों में नहीं हुईं वे पिछले पांच साल में हुईं।-एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.