संस्कृत को लोकप्रिय बनाने के लिए प्रोफेसर जी प्रभा कर रहे हैं फिल्म निर्माण

Samachar Jagat | Saturday, 19 Nov 2016 10:08:11 AM
संस्कृत को लोकप्रिय बनाने के लिए प्रोफेसर जी प्रभा कर रहे हैं फिल्म निर्माण

कोलकाता। जीवनभर कक्षाओं में संस्कृत पढ़ाने के बाद सेवानिवृत्त प्रोफेसर जी प्रभा अब इस प्राचीन भाषा को लोकप्रिय बनाने के लिए फिल्म का निर्माण कर रहे हैं। 'इश्ती' संस्कृत में बनने वाली चौथी फिल्म है और सामाजिक विषय पर इस भाषा में बनने वाली पहली फिल्म है। फिल्म इस हफ्ते कोलकाता अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव केआईएफएफ में दिखाई गई थी और सोमवार को आईएफएफआई गोवा में उद्धघाटन फिल्म होगी।

Happy Birthday : अभिनेत्रियों को विशिष्ट पहचान दिलायी जीनत अमान ने

प्रभा ने कहा, '' संस्कृत में बनी तीनों फिल्में पौराणिक विषयों या किसी के जीवन पर बनी थीं लेकिन संस्कृत का इस्तेमाल सामाजिक विषयों पर आधारित अन्य कहानियों को कहने में भी किया जा सकता है। फिल्म बहुत आधुनिक है और इसका विषय प्रासंगिक है।'' संस्कृत में डॉक्टरेट और चेन्नई के लॉयल कॉलेज से सेवानिवृत्त प्रोफेसर ने पहले दो वृताचित्र बनाए थे लेकिन यह उनकी पहली फीचर फिल्म है।

उनसे जब अक्सर ब्राह्मणों से जोड़े जाने वाली प्राचीन भाषा के समकालीन प्रासंगिकता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि संस्कृत सभी भारतीय भाषाओं की जननी है।

अपने संगीतबद्ध गीतों से देशभक्ति के जज्बे को बुलंद किया सलिल ने

उन्होंने कहा, '' अब भी यह मृत भाषा नहीं है क्योंकि ऐसे लोग है जो मेरे और मेरे परिवार की तरह संस्कृत बोलते हैं। इसमें नए लोग भी शामिल हैं। यह एक गलत धारणा है कि संस्कृत ब्राह्मणों की भाषा है। केरल में दलित भी इसका इस्तेमाल करते हैं।''

 

 

एजेंसी 

 

बनाये अपनी वेडिंग शानदार इन ट्रेंडी नेकपीस से

दाल का बॉडी स्क्रब, जिससे चेहरा बने गोरा और बॉडी बने सुंदर

हमारे शरीर से होठों का रंग कुछ अलग होता है, आइए जानते क्यों ?

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.