रिलीज से पहले विवादों में फंसी सारा अली खान की डेब्यू फिल्म केदारनाथ, ये है पूरा मामला

Samachar Jagat | Sunday, 04 Nov 2018 02:19:15 PM
Sarah Ali Khan's debut film Kedarnath who is hanged in controversy before release, is the whole case

देहरादून। बॉलीवुड की अपकमिंग फिल्म और सैफ अली खान की बेटी सारा अली खान की डेब्यू फिल्म केदारनाथ एक बार फिर विवादों में फंसती नजर आ रही हैं। पांच बरस पहले केदारनाथ में आई प्रलंयकारी बाढ़ की घटना की पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म 'केदारनाथ' अपने टीजर और प्रोमो सामने आते ही विवादों में घिर गई है। इस फिल्म का केदारनाथ के तीर्थ पुरोहितों से लेकर राजनीतिक दलों ने विरोध शुरू कर दिया है।

'ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान' में अपनी आवाज का जलवा बिखेरेंगे अमिताभ, अपने ही घर पर रिकॉर्ड किया फिल्म का गाना

फिल्म के विरोध में उतरे लोगों ने फिल्म के नायक और नायिका के बीच दर्शाए गये अंतरंग दृश्यों को धार्मिक आस्था से छेड़छाड़ बताते हुए आपत्तिजनक करार दिया है। उत्तराखंड में स्थित केदारनाथ क्षेत्र में वर्ष 2013 में आई प्रलयंकारी भीषण बाढ़ से जुड़े घटनाक्रम पर आधारित इस फिल्म का विरोध कर रहे लोगों ने फिल्म की कथा पर आपत्ति जतायी है और उनका मानना है कि यह फिल्म लव जेहाद का समर्थन कर रही है।

उत्तराखंड में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी, हालांकि, इस फिल्म को लेकर फिलहाल खुलकर कुछ नहीं बोल रही है लेकिन उसका भी मानना है कि सैद्धांतिक तौर पर धार्मिक स्थलों से जुडी परंपराओं और आस्थाओं का पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए और यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि इससे किसी की भावनायें आहत न हों।

पिछले कुछ दिनों में फिल्म के टीजर और प्रोमो जारी होने के बाद से केदारनाथ के सतेराखाल और आस पास के अन्य क्षेत्रों में स्थानीय लोगों ने फिल्म के विरोध में प्रदर्शन शुरू कर दिये और उन्होंने फिल्म के पोस्टर, निर्देशक, नायक और नायिकाओं के पुतले जलाये। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि फिल्म के टीजर में दिखाये जाने वाले दृश्य देवभूमि और केदारनाथ की आस्था के साथ खिलवाड़ हैं और फिल्म देवभूमि तथा केदारनाथ की रीति एवं नीति के बिल्कुल उलट है।

Viral: फिल्म 'भारत' में 'मौत के कुएं' से होगा सलमान खान का सामना, सामने आई तस्वीरें

विरोध में शामिल सामाजिक कार्यकर्ता गंभीर बिष्ट ने कहा कि ऐसा मालूम होता है कि फिल्म बनाने वालों ने हिंदू धर्म की आस्था पर चोट की है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में अगर ऐसे दृश्य नहीं हटाये गये तो प्रदेश व्यापी आंदोलन छेड़ा जायेगा। इस बाबत उत्तराखंड प्रदेश भाजपा प्रवक्ता डॉ देवेंद्र भसीन ने कहा कि सैद्धांतिक दृष्टि से धार्मिक स्थलों से जुडी आस्थाओं और परंपराओं का ध्यान रखा जाना चाहिए और सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि लोगों की भावनायें आहत न हों।

उन्होंने कहा कि वैसे भी धार्मिक स्थलों के फिल्मांकन के मामले में फिल्मी मसालों का कोई औचित्य नहीं है। सात दिसंबर को रिलीज हो रही अभिषेक कपूर निर्देशित यह फिल्म बाढ़ में फंसी एक हिंदू श्रद्धालु को एक मुस्लिम द्वारा बचाए जाने के बाद दोनों के बीच पनपे प्यार की कहानी है। इस फिल्म में सारा अली खान और सुशांत सिंह राजपूत की जोड़ी है। सारा, सैफ अली खान और अमृता सिंह की बेटी हैं और यह उनकी पहली फिल्म है। - एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.