तीन तलाक पर बॉलीवुड अभिनेत्री शबाना आजमी ने दिया बड़ा बयान

Samachar Jagat | Monday, 13 Aug 2018 05:32:38 PM
Triple divorce Bollywood Actress Shabana Azmi Given big statement

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जौनपुर। तीन तलाक को मुस्लिम महिलाओं के शोषण का हथियार बताते हुए मशहूर फिल्म अभिनेत्री एवं पूर्व सांसद शबाना आजमी ने कहा है कि देश में इस बेतुकी परम्परा को रोकने के लियेे सरकार की पहल का खुले दिलोदिमाग से स्वागत करना चाहिए। शबाना ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ट्रिपल तलाक बीते कई दशकों से मुस्लिम महिलाओं का शोषण करता चला आ रहा था और जो कानून महिलाओं का शोषण करें उसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

भारतीय संविधान में इस मनमानी की इजाजत नहीं देता। ऐसे में सरकार ने जो कानून बनाया है उसका सबको मिलकर स्वागत करना चाहिए। उन्होने कहा कि दुनिया में 50 से ज्यादा इस्लामिक देशों में से 24 ने ट्रिपल तलाक को अपने संविधान से निकालकर बाहर फेंक दिया है और भारत में जो लोग इसका विरोध कर रहे है वो सरासर गलत है। भारत सेकुलर देश है और संविधान ने यहां सबको अपना हक लेने का अधिकार दिया है। 

अभिनेत्री ने कहा कि निर्भया कांड के बाद जस्टिस वर्मा ने जो रिपोर्ट सरकार को सौंपी थी, उसमें सख्त कानून के साथ-साथ समाज को जागरुक करने की बात कही गयी थी। इसके बाद देश की संसद ने कानून में बदलाव कर सख्त कानून दुष्कर्म को लेकर बनाया था। इसके बावजूद आज जिस तरह से देश में दुष्कर्म की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है वो चिंता का विषय है।

उन्होने कहा कि ऐसे में हम सबको मिलकर लोगों को जागरुक करने की जरुरत है और सरकार को भी चाहिए कि जो भी ऐसे घृणित कार्य में दोषी पाया जाता है उसे कड़ी से कड़ी सजा दी जाय जिससे कि समाज को संदेश मिल सके।

अक्सर देखने में आता है कि लोग घटना के बाद कानून के लचीलेपन की वजह से छूट जाते है इसलिए ऐसे मामलों की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में की जाय और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जा सके। महिला सशक्तिकरण पर शबाना ने कहा कि सरकार आज महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए तरह-तरह की योजनाएं लागू कर रही है। जरुरत है उसको जमीन पर लागू करने की जिससे की महिलाएं अपने हक और अधिकार को जान सके।- एजेंसी

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.