तुलसी के सेवन से होने वाले आश्चर्यजनक फायदें

Samachar Jagat | Monday, 11 Jun 2018 11:39:37 AM
Amazing benefits of basil consumption

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

हेल्थ डेस्क। हिन्दू संस्कृति में तुलसी को पूजा जाता हैं। तुलसी को सुख का स्त्रोत माना जाता हैं, साथ ही तुलसी में औषधीय गुणों की खान भी मानी जाती हैं। तुलसी में वे गुण पाए जाते हैं जिनसे बड़ा से बड़ा रोग भी जड़ से खत्म हो सकता हैं। बदलते मौसम में मौसमी बुखार, जुकाम, दाद, खुजली और त्वचा जैसी कई बीमारियां होने का खतरा हो जाता हैं। ऐसी रोगों से बचने के लिए आज हम आपको तुलसी से होने वाले फायदें बताएंगे। 

अकेलापन बढ़ाता है दिल के मरीजों में मौत का खतरा
तुलसी के सेवन से होने वाले फायदें :-

- कफ, वात, विष विकार, श्वांस-खाँसी और दुर्गन्ध होने पर तुलसी का सेवन करें। 
- सांस लेने में समस्या हैं तो तुलसी के पत्ते को काले नमक के साथ मुहं में रखे एवं उसका रस धीरे-धीरे चूसते रहें। 
- चर्म रोग में तुलसी के पत्ते को खाना चाहिए और तुलसी के अर्क को प्रभावित जगह पर लगाना चाहिए। 
- मासिक धर्म के दौरान कमर में दर्द हो रहा हो तो एक चम्मच तुलसी का रस लें।
- तुलसी की पत्तियों को सेंक कर नमक के साथ खाने से खांसी में फायदा आता हैं। 

योग से किया जाएगा कैंसर पर नियंत्रण

- खांसी-जुकाम होने पर तुलसी के पत्ते, अदरक और काली मिर्च की चाय पीनी चाहिए। 
- तुलसी के रोज 4-5 पत्ते खाने से दमा और टीबी होने का खतरा काम हो जाता हैं क्योंकि तुलसी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाती हैं। 
-  तुलसी सौंठ के साथ सेवन करने से लगातार आने वाला बुखार ठीक होता है।
- तुलसी के रस में थाइमोल तत्व पाया जाता है, जिससे त्वचा के रोगों में लाभ होता है। 
- कुष्ठ रोग या कोढ में तुलसी की पत्तियां रामबाण सा असर करती हैं। खायें तथा रस प्रभावित स्थान पर मलें भी।

कालेपन को दूर करने में मददगार है खट्टा - मीठा फालसा

- त्वचा संबंधी रोगों में तुलसी खासकर फायदेमंद है। इसके इस्तेमाल से कील-मुहांसे खत्म हो जाते हैं और चेहरा साफ होता है। 
- कहीं चोट लगने पर तुलसी के पत्ते को फिटकरी के साथ मिलाकर लगाने से घाव जल्दी ठीक हो जाता है। तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल तत्व होते हैं जो घाव को पकने नहीं देता है। 
- दस्त होने पर तुलसी के पत्तों को जीरे के साथ मिलाकर पीस लें। इसके बाद उसे दिन में 3-4 बार चाटते रहें। 
- अनियमित पीरियड्स की समस्या में तुलसी के बीज का इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। मासिक चक्र की अनियमितता को दूर करने के लिए तुलसी के पत्तों का भी नियमित किया जा सकता है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.