महिला के चेहरे पर आने वाले बाल बांझपन या ट्यूमर का देते है संकेत

Samachar Jagat | Wednesday, 11 Jul 2018 11:22:13 AM
Hair on the face of a woman indicates infertility or tumor

इंटरनेट डेस्क। वैसे तो महिलाओं के शरीर पर खासतौर पर चेहरे पर अधिक बाल नहीं होते है लेकिन कुछ महिलाओं में हार्मोन के असुंलन के कारण इस तरह की समस्या हो जाती है। कुछ महिलाओं के दाढ़ी और मूंछ की जगह पर बाल आने लगते हैं। चेहरे के बाल महिला के लिए शर्मिंदगी और परेशानी का कारण बन जाते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए महिलाएं ब्लीचिंग, वैक्सिंग या शेविंग जैसे तरीके अपनाती हैं। ये केवल अस्थायी तरीके हैं। इसका कोई स्थायी समाधान नहीं है। लेकिन किसी महिला में इस तरह के लक्षण है तो उसे सामान्य नहीं समझना चाहिए। ये किसी गंभीर बीमारी को भी जन्म दे सकते हैं। इसलिए समय रहते लक्षणों को पहचानकर डॉक्टर से सलाह लें।

आपको बता दें कि चिकित्सकों का मानना है कि चेहरे पर आने वाले बाल महिलाओं की सुंदरता पर तो दाग लगाते ही है साथ ही ये बांझपन जैसी समस्या का भी कारण बन सकता है। पता हो कि ऐसी स्थिति हॉर्मोन असंतुलन या अत्यधिक हॉर्मोनों के उत्पादन के कारण होती है और इसी के चलते ट्यूमर का संकेत भी देती है। एक रिसर्च में पचा चला है कि विश्व में करीब  2 करोड़ से अधिक महिलाएं हरस्यूटिज्म यानी शरीर पर अत्यधिक बाल होने की समस्या से पीड़ित हैं। इसके अलावा पॉली सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी PCOS एक ऐसी ही स्थिति है, जो महिलाओं में बालों के अनचाहे विकास से संबंधित है और डायबीटीज व हृदय रोगों का प्रमुख खतरा भी है।

ऐसे करें कन्फर्म- महिला के चेहरे के बाल किसी गंभीर बीमारी का संकेत हैं या नहीं कैसे पता लगाएं। यौवन प्रारंभ होने की उम्र क्या है? मासिक चक्र नियमित है या नहीं? पेट में कोई पिंड तो विकसित नहीं हो रहा है। इसके अलावा टेस्टोस्टेरॉन और प्रोजेस्ट्रॉन, पेल्विक अल्ट्रासाउंड के टेस्ट भी करवाए जा सकते हैं।

 

नाइट शिफ्ट में काम करने से बढ़ सकता है हृदयरोग और कैंसर का खतरा



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.