स्मार्टफोन पर मिलेगी नवजात बच्चों की धड़कन चलने की जानकारी

Samachar Jagat | Thursday, 11 Jan 2018 01:23:10 PM
Information about newborn baby beats on smartphone

इंटरनेट डेस्क। जब बच्चे छोटे होते है तो उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखना जरूरी है। बच्चे बोल नहीं सकते इसलिए उनकी बीमारी का पता भी नहीं चल पाता। नवजात बच्चों में सर्दी-जुकाम होने से सांस लेने की समस्या होती है। ऐसे में कई बार बच्चे मौत के शिकार हो जाते है। अचानक से उनकी चलती सांसे कब बंद हो जाती है कुछ पता नहीं चल पाता।

अब वैज्ञानिकों ने ऐसी तकनीक भी विकसित कर ली है जो बच्चों की सांसों के चलने का पता उनके स्मार्टफोन पर लगेगा। वैज्ञानिको ने एक ऐसी नली बनाने जा रहे है जो बच्चों की सांसो को रिकॉर्ड करके मां-बाप तक पहुंचा देगी कि उनका बच्चा सही से सांस ले पा रहा है या नहीं। खबरों के मुताबिक यह तकनीक यूके की ससेक्स यूनिवर्सिटी के रिसचर्स ने तैयार की है।

करी पत्ते में मौजूद इन गुणों को जानकर आप भी करने लगेंगे उपयोग

उन्होनें इस तरह की ट्यूब का प्रोटोटाइप बनाया है। इस ट्यूब में ग्रेफीन, पानी और तेल का मिश्रण होगा जो सांस लेने पर नली में कुछ बदलाव करता है जिससे पता चलता है कि सांस लेने की गति को रिकॉर्ड किया जा सकता है। इसे उपयोग में लेने के लिए इसे बच्चों के शरीर पर बेल्ट के जैसे बांधना होगा।

महिलाओं के लिए अधिक खतरनाक है सीजनल अफेक्टिव डिसॉर्डर

स्मार्टफोन में एक एप होगी जो इस ट्यूब से कनेक्ट की जाएगी। उसके बाद दिल की धड़कनें ट्यूब में रिकॉर्ड होगी और उसकी जानकारी स्मार्टफोन पर मिलेगी। इससे बच्चों के मां-बाप को उनके स्वास्थ्य का पता रहेगा और नवजात बच्चों में होने वाली अचानक मौत से बचा जा सकता है। जानकारी के मुताबिक रिसचर्स इस ट्यूब को 2-4 सालों में ला सकते है।

पाक टीम में बड़ा बदलाव, इस ऑलराउंडर क्रिकेटर को टी20 टीम से किया बाहर

ISL-4: ह्यूम की हैट्रिक से केरल ने दिल्ली को 3-1 से हराया



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.