महिलाओं को एचआईवी संक्रमण से बचाने के वैज्ञानिकों तैयार किया खास इम्प्लान्ट

Samachar Jagat | Monday, 16 Apr 2018 04:09:23 PM
Scientists prepared special implant To protect women from HIV infection
Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

टोरंटो। वैज्ञानिकों ने एक ऐसा इम्प्लान्ट विकसित किया है जो महिलाओं के योनि मार्ग की उन कोशिकाओं की संख्या को घटा कर उन्हें एचआईवी के संक्रमण से बचाता है जिन कोशिकाओं को एचआईवी का वायरस संक्रमित कर सकता है।

गर्भावस्था में पेनकिलर लेने से बच्चे की प्रजनन क्षमता को पहुंच सकता है नुकसान

एचआईवी की रोकथाम के परंपरागत उपायों में कंडोम या एचआईवी रोधी दवाएं शामिल हैं। कनाडा के वाटरलू विश्वविद्यालय के शोधार्थियों का दावा है कि इन उपायों से बिल्कुल अलग, इम्प्लान्ट में वायरस के प्रति लोगों की सामान्य प्रतिरोधक क्षमता पर जोर दिया गया है।

गर्मियों में सीमित मात्रा में करें आम का सेवन

इस इम्प्लान्ट के बारे में जानकारी ''जर्नल ऑफ कंट्रोल्ड रिलीज’’ में प्रकाशित हुई है। इम्प्लान्ट में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन का उपयोग किया गया है जो धीरे धीरे योनि मार्ग की नलिका की कोशिकाओं में जाता है। कोशिकाएं इसका अवशोषण कर लेती हैं।

मरीजों का रिकॉर्ड और बीमारियों का डाटा होगा डिजिटलीकरण

वाटरलू विश्वविद्यालय के प्रोफ़ेसर इमैनुएल हो ने बताया ''इस इम्प्लान्ट की वजह से टी कोशिकाएं संक्रमण पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देतीं जिसकी वजह से वायरस का ट्रांसमिशन भी रूक जाता है।’’ एचआईवी का वायरस टी कोशिकाओं को संक्रमित कर देता है जिसका असर शरीर पर होता है। ये टी कोशिकाएं वायरस के मानव शरीर में प्रवेश करते ही प्रतिरोधक तंत्र को सक्रिय कर देती हैं। एजेंसी

प्रतिरोधी कैंसर में कारगर हो सकती है नई श्रेणी की दवा

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.