मुंह में पथरी होने पर हो सकता है कैंसर का खतरा

Samachar Jagat | Wednesday, 06 Dec 2017 07:26:05 AM
The risk of cancer may be on the mouth in stone

हेल्थ डेस्क। आजकल हर किसी को पथरी की समस्या होती है। ये एक आम बात हो गयी है। अनियमित खान- पान के कारण इस तरह की परेशानी हो ही जाती है। लेकिन  किडनी की तरह मुंह में भी पथरी का खतरनाक हो सकती है। मुंह में मौजूद लार ग्रंथि में कैल्शियम फॉस्फेट जम कर पथरी का रूप ले लेता है जो कि खतरनाक हो सकता है। आइए जानते है इससे बचने के उपाय......

सर्दियों में पानी की कमी को पूरा करेंगे ये पदार्थ

कारण और लक्षण
कान के नीचे पेरोटिड ग्रंथि और जबड़े के सबमेंडुलर लार ग्रंथि में पथरी हो सकती है। ऐसा इन ग्रंथियों में कैल्शियम फास्फेट के जमने के कारण होता है। मुंह में पथरी होने पर लार प्रवाह बंद हो जाता है। इसके अलावा पथरी होने पर जबड़े और कान के आस-पास सूजन, खाना खाने में प्रॉब्लम और जबड़े में दर्द होने लगता है। 

कई शारीरिक समस्याओं का उपाय है पालक

इसके अलावा इसका इफ़ेक्ट मुंह के कैंसर और दिमारी बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। इलाज करवाने के बाद भी व्यक्ति भोजन के दौरान होने वाले दर्द को नहीं भूल पाता, जिसे मील टाइम सिंड्रोम भी कहते है।

हेल्दी प्रैग्नेंसी के लिए इन चीज़ों को करे अवॉइड

 बचने के उपाय 
.•  इस बीमारी का पता एक्सरे और सीटी स्कैन से लगाया जा सकता है। ग्रंथि के अंदर पथरी होने पर इसे ऑपरेशन से निकाला जाता है।

•  मुंह में सूजन, दर्द और लार के न निकलने पर तुंरत डॉक्टर को दिखाएं। पथरी बढ़ी न होने पर आप कैंसर के खतरे से बच सकते है।

घुटनों में दर्द से जुकाम तक का इलाज है हींग

•  इस बीमारी से बचने के लिए रोजाना कम से कम 7-8 गिलास पानी पीएं। इससे लार ग्रंथि में पथरी के चांसेस कम हो जाते है।

•  कम पानी पीने वाले और चबाकर खाना न खाने वाले लोगों को यह बीमारी हो सकती है। इस बीमारी से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं और खाना हमेशा चबाकर खाएं।

sourse google 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.