मुसलाधार बारिश के बाद बांग्लादेश में भूस्कलन, अब तक 14 राहिंग्या शरणार्थियों की मौत

Samachar Jagat | Tuesday, 12 Jun 2018 05:34:19 PM
14 people die in landslide in bangladesh

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

ढाका। दक्षिणपूर्व बांग्लादेश में करीब दस लाख रोहिंग्या शरणार्थियों के शिविरों के पास दो दिनों से हो रही जोरदार मूसलाधार बारिश के बीच मंगलवार को भूस्कलन होने की खबरे आ रही है। बताया जा रहा है कि इस भूस्खलन में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई जबकि कई अन्य शरणार्थी अभी भी लापता है।

देश में बढ़ रहे यौन शोषण के मामले, सबके दिलों में एक ही बात क्या इस तरह से ही चलता रहेगा देश

भारी बारिश से हुए भूस्खलन में म्यामां की सीमा पर काक्स बाजार और रंगमाटी जिलों में कई घर और आश्रय स्थल बह गए। म्यामां में सैन्य कार्रवाई के कारण करीब सात लाख रोहिंग्या मुस्लिम भागकर बांग्लादेश आ गए हैं। भारी बारिश से आश्रय स्थलों को गंभीर नुकसान पहुंचा है। अब तक, नौ हजार से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं और इस संख्या में बढ़ोत्तरी की आशंका है क्योंकि बीते दो दिन से जारी मानसूनी बारिश लगातार हो रही है। 

विजय माल्या के प्रत्यर्पण का मुद्दा उपयुक्त कानूनी चैनलों से बढ़ रहा है आगे : ब्रिटिश मंत्री

रंगमाटी पर्वतीय जिले के विभिन्न क्षेत्रों में भूस्खलन में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई जबकि काक्स बाजार में दो लोग मारे गए। रंगमाटी के सरकारी डॉक्टर शाहिद तालुकदार ने कहा कि मृतकों की अब तक पहचान नहीं हो पाई है और बचाव एवं राहत दल को प्रभावितों के पास पहुंचने में मुश्किल हो रही है।

शरीफ ने पाक शीर्ष अदालत के प्रधान न्यायाधीश पर दमन और अन्याय का आरोप लगाया

पास के पर्वतों से मलबा बहकर आने से ज्यादातर पीडि़तों की मौत मलबे में दबकर हुई। अधिकारियों ने कहा कि रंगमाटी जिले में मृतकों की संख्या बढ़ सकती है जिसका भूस्खलन से आए मलबे के सडक़ों पर जमा होने से बाकी देश से संपर्क टूट गया है।

वार्ता से पहले ट्रंप ने आबे, दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति से की चर्चा

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.