18 वर्षीय अमेरिकी नागरिक लश्कर-ए-तैयबा की मदद करने का दोषी

Samachar Jagat | Thursday, 09 May 2019 04:02:40 PM
18-year-old US citizen convicted of helping Lashkar-e-Taiba

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

वाशिंगटन। अमेरिका के 18 वर्षीय एक नागरिक को बुधवार को पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) की मदद करने और उसके लिये लड़ाकों की भर्ती करने का दोषी पाया गया है। इसी संगठन ने मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले को अंजाम दिया था। टेक्सास के फोर्ट वर्थ के रहने वाले माइकल काइली सीवेल को फरवरी में गिरफ्तार किया गया था और उसने स्वीकार किया कि उसने एक व्यक्ति को लश्कर से जुड़ने के लिए उकसाया था।

चलो भोले बाबा के द्वारे...! बाबा केदारनाथ के खुले कपाट,गूंजे बम-बम भोले के जयकारे

अदालत के दस्वावेजों में दूसरे शख्स की पहचान सह-साजिशकर्ता के तौर पर की गई है। अब वह 20 वर्ष की संघीय कैद और ढाई लाख अमेरिकी डॉलर के जुर्माने का सामना कर रहा है। यह सजा 12 अगस्त से शुरू होगी। याचिका के मुताबिक सीवेल सोशल मीडिया पर सह-साजिशकर्ता से बात करता था और उसने सहसाजिशकर्ता को उस व्यक्ति के बारे में जानकारी मुहैया कराई जो उसके मुताबिक लश्कर में शामिल होने के लिए सह-साजिशकर्ता की पाकिस्तान यात्रा के लिये प्रबंध कर सकता था।

सीवेल और सहसाजिशकर्ता हालांकि इस बात से अनजान थे कि यात्रा प्रबंध के लिये वे जिस शख्स के संपर्क में थे वह असल में छद्मपहचान के साथ एक एफबीआई एजेंट ही था। सीवेल ने सहसाजिशकर्ता के साथ इस बात पर चर्चा की कि वह यात्रा का प्रबंध करने वाले शख्स (अंडरकवर एफबीआई एजेंट)से क्या कहे जिससे वो उसका भरोसा जीत सके और लश्कर-ए-तैयबा में शामिल होने के लिये मंजूरी दे दे।

PM मोदी की स्थिति एक ऐसे स्कूली बच्चे की तरह है जो कभी भी अपने होमवर्क नहीं करते: प्रियंका गांधी

उसने अंडरकवर एफबीआई एजेंट से भी संपर्क किया और सहसाजिशकर्ता की प्रमाणिकता को लेकर दलील देते हुए दोनों को बताया कि अगर सहसाजिशकर्ता जासूस निकला तो वह उसकी हत्या कर देगा। फरवरी में सीवेल पर एफबीआई ने सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर लश्कर की तरफ से लोगों को भर्ती करने और उन्हें आतंकवादी प्रशिक्षण के लिये पाकिस्तान भेजने का आरोप लगाया। फॉक्स4 न्यूज की खबर के मुताबिक यह स्पष्ट नहीं है कि सीवेल अभी हिरासत में है या नहीं।

loading...


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
loading...


Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.