जलवायु परिवर्तन पर कार्रवाई, नियोजन, निधिकरण और निवेश जरुरी: गुटेरेस

Samachar Jagat | Tuesday, 04 Dec 2018 10:57:05 AM
Action on climate change, planning, funding and investment needed: Gutters

न्यूयॉर्क। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा है कि पूरा विश्व जलवायु परिवर्तन से गंभीर संकट में है और धरती के भविष्य के लिए नीति निर्माताओं को अपना ध्यान जलवायु परिवर्तन की कार्रवाई में आगे बढ़ाने, सशक्त नियोजन, अधिक निधिकरण और समझदारी पूर्ण निवेश पर केंद्रित करना होगा। 

गुटेरेस ने पोलैंड के कैटोविश में जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र की संधि के तहत कॉन्फ्रेंस ऑफ पार्टीज की 24वीं बैठक (सीओपी-24) में शामिल 150 देशों के नेताओं को संबोधित करते हुए यह बात कही। बैठक में जलवायु परिवर्तन समझौते पर हस्ताक्षरकर्ता वाले देशों के समक्ष 2015 के ऐतिहासिक पेरिस समझौते के क्रियान्वयन के लिए समय सीमा तय की गई।

गौरतलब है कि फ्रांस की राजधानी पेरिस में तीन वर्ष पहले 2015 में हुए समझौते में शामिल देश सामूहिक रूप से वैश्विक तापमान को दो डिग्री सेल्सियस से ज्यादा नहीं बढ़ने देने पर सहमत हुए थे और आश्वासन दिया था कि अगर संभव हो तो इस बढ़ोतरी को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करेंगे।

पोलैंड में अब इन देशों ने इस बात पर सहमति व्यक्त की है कि वे किस प्रकार सामूहिक रूप से इस लक्ष्य हासिल करेंगे। गुटेरेस ने कहा कि हम कैटोविश में असफल नहीं होंगे।

उन्होंने कई अन्य उच्च स्तरीय प्रतिनिधियों के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए बैठक में हिस्सा ले रहे वैश्विक प्रतिनिधियों, गैर लाभकारी संगठनों, संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों और निजी क्षेत्र की कंपनियों के लिए चार महत्वपूर्ण संदेश दिए।

उन्होंने कहा कि हमें अधिक महत्वाकांक्षा के साथ और अधिक कार्रवाई करने की आवश्यकता है। देशों के बीच विश्वास बहाली के लिए दिशानिर्देशों का क्रियान्वय अत्यंत है। जलवायु परिवर्तन पर कार्रवाई के लिए पर्याप्त निधिकरण जरुरी है और जलवायु परिवर्तन पर कार्रवाई सामाजिक और आर्थिक समझदारी के साथ हो।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.