रोहिंग्याओं को वापस भेजने पर बांग्लादेश और यूएनएचसीआर के बीच समझौता

Samachar Jagat | Thursday, 12 Apr 2018 10:18:34 AM
Agreement between Bangladesh and UNHCR on sending back Rohingyas

ढाका। बंगलादेश में रह रहे रोहिंग्या शरणार्थियों को म्यांमार भेजे जाने के मसले पर संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी और बंगलादेश सरकार के बीच एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए जा सकते हैं। संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी उच्चायुक्त कार्यालय (यूएनएचसीआर) के प्रवक्ता ने कल यह जानकारी दी।

अल्जीरियाई सेना का विमान दुर्घटनाग्रस्त, सौ से अधिक लोगों की मौत

प्रवक्ता एंदरेज महेकिक ने बताया कि इस सहमति पत्र में संयुक्त राष्ट्र एजेंसी और बंगलादेश सरकार के बीच इन शरणार्थियों को सुरक्षित , स्वैच्छिक और सम्मानजनक तरीके से अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार म्यांमार भेजे जाने पर विचार किया जाएगा तथा यह भी देखा जाएगा कि क्या उनके लौटने के लिए स्थितियां बेहतर हैं। महेकिक और बंगलादेश के विदेश सचिव मोहम्मद शहीदुल हक इस मसले पर शुक्रवार को सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे।

ब्रिटेन में सीरिया के मसले पर आज अहम बैठक

इस मामले से जुडे एक अन्य बंगलादेशी अधिकारी ने बताया कि पूरी प्रकिया यूएनएचसीआर मानकों के तहत पूरी कराई जाएगी ताकि इन शरणार्थियों के वापस भेजे जाने की प्रकिया में किसी तरह का कोई दबाव नहीं हो। गौरतलब है कि पिछले वर्ष अगस्त माह में म्यांमार के राखिने प्रांत में रोहिग्या समुदाय के लोगों पर सेना की जोरदार कार्रवाई के बाद सात लाख रोहिंग्या मुसलमान भाग कर बांग्लादेश चले गए थे।

ये शरणार्थी बंगलादेश के कॉक्सबाजार क्षेत्र में शरणार्थी शिविरों में रह रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र में म्यांमार के राजदूत हतिन लिन ने बताया कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि उनका देश इस मसले पर अप्रैल माह के अंत तक एक समझौते को क्रियान्वित कर देगा ताकि इन शरणार्थियों को सुरक्षित और स्वैच्छिक तरीके से स्वदेश भेजा जा सके। एजेंसी

पाक के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को जेल जाने की आशंका



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.