ब्रेक्जिट समझौते को ठुकराने के बाद नई राह तलाश रहे हैं ब्रिटेन के सांसद

Samachar Jagat | Monday, 01 Apr 2019 03:50:45 PM
Britishers looking for a new path after refusing to break the agreement

लंदन। प्रधानमंत्री टेरेसा मे के ब्रेक्जिट सौदे को तीसरी बार ठुकराने के बाद ब्रिटिश सांसद ब्रेक्जिट को लेकर अब एक नई राह तलाशने की कोशिश करेंगे। जून 2016 में हुए जनमत संग्रह में ब्रेक्जिट के पक्ष में तकरीबन 52 फीसदी मत थे, लेकिन इस प्रक्रिया से ब्रेक्जिट समर्थक, इस मामले में अलग होने की शर्तों और भविष्य में संबंधों को लेकर बंट गए हैं।

टीआरएस और BJP के बीच है समझौता, केवल कांग्रेस कर सकती है बीजेपी से मुकाबला: राहुल गांधी

यूरोपीय संघ से समझौते को लेकर सरकार ने नवम्बर में एक कोशिश की थी लेकिन संसद ने इसकी पुष्टि करने से इंकार कर दिया और सांसदों ने हाउस ऑफ कॉमन्स में ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से अलग होने की शर्तों को तीसरी बार 286 के बदले 344 मतों से खारिज कर दिया। ब्रिटेन को यूरोपीय संघ से 29 मार्च को अलग होना था, लेकिन यदि ब्रिटेन के सांसद ब्रेक्जिट संबंधी समझौते को अगले सप्ताह मंजूरी दे देते हैं तो ब्रेक्जिट के लिए 22 मई तक इंतजार किया जा सकता है।

लोकसभा चुनाव : महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना की जीत को लेकर आश्वस्त हैं मंत्री शिदे

'टेलीग्राफ’ की रविवार को प्रकाशित एक खबर के अनुसार ब्रेक्जिट का समर्थन करने वाली मंत्री एंड्रिया लीडसम ने एक पत्र के जरिए समय को 22 मई से आगे बढ़ाने की मांग की है। इस पत्र पर कैबिनेट के 10 सदस्यों ने हस्ताक्षर किए हैं। पत्र में यह भी कहा गया है कि बेक्जिट के बाद दूसरे देशों के साथ व्यापारिक समझौते करने के लिए मे को पार्टी के घोषणापत्र में किए वादे के पक्ष में खड़ा होना चाहिए।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.