अमेरिका का लोकतंत्र खतरे में, ट्रंप प्रशासन दे रहा है पवित्र संस्थानों को चुनौती 

Samachar Jagat | Sunday, 08 Jul 2018 05:18:44 PM
Democracy in the United States is in danger,Trump administration is giving challenge to sacred institutions

वाशिंगटन।  मुख्य विपक्षी दल डेमोक्रेटिक पार्टी के निर्णायक निकाय की नव नियुक्त सीईओ भारतीय-अमेरिकी सीमा नंदा ने दावा किया कि अमेरिकी लोकतंत्र खतरे में हैं। मौजूदा ट्रंप प्रशासन के दौरान कुछ पवित्र संस्थानों को चुनौती दी जा रही है।  

शिकागो में जन्मी नंदा को पिछले महीने डेमोक्रेटिक पार्टी के औपचारिक निर्णायक निकाय डेमोक्रेटिक नेशनल कमेटी (डीएनसी) का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया गया था। इसके साथ ही वह अमेरिकी में किसी बड़े राजनीतिक दल का संचालन करने वाली भारतीय -अमेरिकी समुदाय की पहली सदस्य हैं।

खालिदा जिया जेल में बीमारी का 'ढोंग’ कर रही : प्रधानमंत्री हसीना

उन्होंने ट्रंप प्रशासन के पिछले 18 महीने के कार्यकाल को अमेरिका के लिए बेहद मुश्किल भरा वक्त करार दिया। नंदा ने बताया कि यह देश के लिए बेहद मुश्किल वक्त है। इस प्रशासन में हमारे लोकतंत्र पर प्रतिदिन हमला हो रहा है और वह हमारे यहां मौजूद कुछ सबसे मौलिक और पवित्र संस्थानों को वास्तव में चुनौती दे रहा है।

परमाणु मुद्दे पर अमेरिका की मांग 'धमकाने वाली': उत्तर कोरिया

नंदा के माता - पिता पंजाब के रहने वाले हैं हालांकि 1970 में अमेरिका जाने से पहले वह उत्तर प्रदेश में रहीं।  उन्होंने कहा है कि हम इस प्रशासन द्वारा प्रतिदिन स्वतंत्र प्रेस, कांग्रेस के मौजूदा सदस्यों पर हमला देखते हैं। हम भ्रष्टाचार देखते हैं।

सबसे ज्यादा परेशान करने वाली बात यह है कि यह उन मुद्दों से ध्यान भटका देता है जिनके बारे में डेमोक्रेटिक पार्टी बात करना चाहती है। उन्होंने कहा कि आय की असमानता पहले से कही ज्यादा हो गई है।  

दक्षिणी जापान में बारिश का कहर, 76 लोगों की मौत

नंदा आने वाली 23 जुलाई से शक्तिशाली डीएनसी की दैनिक गतिविधियों की जिम्मेदारी संभालेंगी। नंदा ने कहा है कि हम अपने लोकतंत्र की सुरक्षा को लेकर बेहद केंद्रित हैं, यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि हमारे यहां ऐसे संस्थान हों जो सरकार को भटकने से रोकते हैं। इनसे यह देश इतना महान और खुला बना है कि वह सबका स्वागत करता है। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.