निम्रिता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर विशेषग्यों ने उठाए सवाल

Samachar Jagat | Thursday, 19 Sep 2019 02:16:47 PM
Experts raise questions on Nimrita's postmortem report

कराची। हिन्दू समुदाय की युवती निम्रिता अमृता मीरचंदानी की प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर विशेषग्यों और कराची के स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सा और कानून क्षेत्रों के विशेषज्ञों ने इसके परीक्षण के विवरण के प्रमाणीकरण पर सवाल खड़े किए हैं। बीबी आसिफा डेंटल कॉलेज से दंत चिकित्सा की अंतिम वर्ष की छात्रा निम्रिता सोमवार को लरकाना स्थित अपने हास्टल के कमरे में संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाई गई थी। सिंध सरकार ने बुधवार को लरकाना के सत्र न्यायाधीश से निम्रिता की मौत की न्यायिक जांच का अनुरोध किया था। विशेषग्यों और अधिकारियों का मानना है कि रिपोर्ट में कई खामियां और मुख्य तथ्य गायब हैं। इनका कहना है कि तस्वीर में जो खरोंच नजर रही है वह दुपट्टे की वजह से नहीं है ।


loading...

डान न्यूज के अनुसार चिकित्सा-कानून क्षेत्र के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम नहीं उजागर करने की शर्त पर बताया ‘‘ यह निशान रस्सी के हैं। विशेषग्य ने कहा,‘‘ पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आत्महत्या की बात कही गई है किन्तु खरोंच का निशान गला घोंटना दर्शाता है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु और पोस्टमार्टम के बीच का समय 11 से 12 घंटे का है किन्तु फोटो करीब 24 घंटे पहले की है क्योंकि शव सडऩे लगा था। विशेषग्यों ने कहा है कि शव के सडऩे के संबंध में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कुछ नहीं बताया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि शव की स्थिति‘‘ताजा’’ थी। विशेषग्यों ने कहा कि इस पर भी सवालिया निशान है कि पांच फुट की लडक़ी ने 15 फुट ऊंची छत के पंखे से अपने को कैसे लटकाया। उधर निम्रिता मामले में पुलिस ने दो छात्रों को हिरासत में लिया है।

दोनों छात्र उसके सहपाठी हैं। लरकाना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मसूद बंगश ने मीडिया को बताया कि निम्रिता के फोन की कॉल डिटेल खंगालने के बाद दो छात्रों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने बताया कई फोटो और अन्य सामान जिनमें परीक्षा पास शामिल हैं निम्रिता के हॉस्टल कमरे में पाये गए हैं। उसके लैपटॉप को भी खंगाला जा रहा है। निम्रिता के परिवार ने हत्या का संदेह जताया है जबकि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में किसी अंतिम निर्णय पर नहीं पहुंच जा सका है। विश्वविद्यालय अधिकारियों ने शुरुआत में इसे आत्महत्या माना है।-(एजेंसी)

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.