हाउडी मोदी: मोदी ने सुनाई कविता, वो जो मुश्किलों का अंबार है, वही मेरे हौसलों की मीनार है

Samachar Jagat | Monday, 23 Sep 2019 10:36:06 AM
Howdy Modi: The poem recited by Modi, he who is the face of difficulties, is the tower of my spirits

इंटरनेट डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 50 हजार अमेरिकी भारतीयों को संबोधित करते हुए हाउडी मोदी के जवाब में उस वक्त माहौल को शायरना बना दिया जब उन्होंने अपनी कविता की दो लाइनें पढ़ीं। पीएम मोदी ने समय कम होने का हवाला देते हुए अपनी कविता को पूरा नहीं पढ़ा और सिर्फ दो ही लाइनें सुनाई लेकिन उनकी दो लाइनों का श्रोताओं को मुग्ध कर दिया।

पीएम मोदी का जोशील भाषण, हाउडी मोदी में ट्रंप भी बोले मोदी-मोदी, ह्यूस्टन में ट्रंप पर भारी पड़े मोदी

अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा, यहां पूरी कविता सुनाने का तो समय नहीं है, लेकिन मैं मेरी लिखी एक कविता की दो लाइने आपको सुनाना चाहता हूं। वो जो मुश्किलों का अंबार है, वही तो मेरे हौसलों की मीनार है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 50 हजार अमेरिकी भारतीयों को संबोधित करते हुए हाउडी मोदी के जवाब में कहा कि भारत में सब कुछ ठीक है। इसके साथ ही उन्होंने इस बात को कई अन्य भाषाओं में व्यक्त करने की कोशिश की। भारत में भाषाओं की विविधता पर जोर देते हुए।

पीएम मोदी हाउडी मोदी कार्यक्रम में जाने से पहले 2 घंटे जर्मनी में रुके 

उन्होंने कहा कि सब चंगे सी, मजामा छे, एलम सौकियाम, सब खूब भालो, सबू भाल्लाछी। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मौजूदगी में वहां मौजूद अमेरिकी नागरिकों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, मेरे अमेरिकी मित्र इससे आश्चर्यचकित हैं कि मैंने क्या कह दिया। प्रेसिडेंट ट्रंप और मेरे अमेरिकी मित्रों, मैंने भारतीय भाषाओं में केवल यह कहा कि सब कुछ ठीक है।  

पीएम मोदी ने कहा कि भारत भिन्न भाषाओं, भिन्न संस्कृति, भिन्न खानपान के साथ विविधताओं से भरपूर है और यही इसकी अनूठी पहचान है और ताकत है। उन्होंने कहा कि हमारा जीवंत लोकतंत्र हमारा आधार है और यही हमारी प्रेरणा है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.