भारत के नकारात्मक रूख से निराश हूं: इमरान खान

Samachar Jagat | Saturday, 22 Sep 2018 06:05:35 PM
Imran Khan said I am disappointed with India's negative stance:

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने न्यूयार्क में विदेश मंत्री स्तर की बैठक को रद्द किए जाने संबंधी भारत के निर्णय को अहंकारी रूख बताया है। उन्होंने कहा कि भारत के नकारात्मक रूख से वह निराश है। न्यूयॉर्क में भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच बैठक पर राजी होने के महज 24 घंटे बाद शुक्रवार को भारत सरकार ने कहा था कि कोई बैठक नहीं होगी। भारत ने जम्मू कश्मीर में तीन पुलिसकर्मियों की बर्बर हत्या और पाकिस्तान द्वारा कश्मीरी आतंकवादी बुरहान वानी का महिमामंडन करने वाली डाक टिकटें जारी करने का हवाला देते हुए यह एलान किया था। संयुक्त राष्ट्र महासभा से इतर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और उनके पाकिस्तानी समकक्ष महमूद कुरैशी के बीच यह बैठक होनी थी।

संरा प्रमुख गुतारेस अक्टूबर की शुरूआत में करेंगे भारत की यात्रा

बैठक रद्द किए जाने की घोषणा करते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि घटनाक्रमों से विश्व के समक्ष पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान का असली चेहरा तथा बातचीत के प्रस्ताव के पीछे छिपा इस्लामाबाद का नापाक एजेंडा सामने आ गया है। कुमार ने कहा कि पाकिस्तान स्थित तत्वों की ओर से सुरक्षाकर्मियों की बर्बर हत्या और एक आतंकवादी (बुरहान वानी) को महिमामंडित करते हुए 20 डाक टिकटों की श्रृंखला जारी करने की घटना तथा आतंकवाद से इस बात की पुष्टि होती है कि पाकिस्तान नहीं सुधरेगा।

मेक्सिको में पत्रकार की हत्या, इस वर्ष अब तक मारे जा चुके हैं नौ पत्रकार: समाचार पत्र

प्रधानमंत्री खान ने एक ट्वीट में कहा कि शांति वार्ता फिर से शुरू किए जाने के लिए मेरे आह्वान पर भारत के अहंकारी और नकारात्मक रूख से निराश हूं। भारत द्वारा बैठक रद्द किए जाने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि हालांकि मैंने अपने पूरे जीवन देखा है कि छोटे लोग बड़े पदों पर आसीन रहे हैं और उनके पास बड़ी तस्वीर देने का दृष्टिकोण नहीं हैं। कुमार ने कहा था कि बदलती स्थिति के मद्देनजर भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रियों के बीच न्यूयार्क में कोई बैठक नहीं होगी।

रूसी नागरिक की मौत के मामले में जहर की आशंका बरकरार

भारत के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पाकिस्तान विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान पूरी तरह से इन आरोपों को खारिज करता है। हमारे अधिकारी सच्चाई का पता लगाने के लिए संयुक्त जांच करने के लिए तैयार होंगे। डाक टिकटों के मुद्दे पर फैसल ने कहा कि उन्होंने 25 जुलाई के चुनाव और 18 अगस्त को प्रधानमंत्री खान के पद संभालने से पहले इन्हें जारी किया गया था।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.