नेपाल के इंटरनेट बाजार पर भारत का एकाधिकार समाप्त, चीन की सेवाएं शुरू

Samachar Jagat | Sunday, 14 Jan 2018 04:26:01 PM
India monopoly over Nepals Internet market, Chinas services begin

काठमांडू। नेपाल को इंटरनेट सेवाएं देने वाला भारत अब इकलौता देश नहीं रह गया है। चीन ने नेपाल में अपनी इंटरनेट सेवाएं देना शु्रू कर दी। नेपाल में चीन की इंटरनेट सेवाएं शुरू होने के साथ ही नेपाल के इंटरनेट बाजार पर भारत का एकाधिकार समाप्त हो गया।

सुधार और विकास कार्य से बदलेगा समाज : नीतीश 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चीन की चाइना टेलीकॉम ग्लोबल (सीटीजी) नेपाल टेलीकॉम के साथ मिलकर नेपाल में वैकल्पिक इंटरनेट सेवाएं उपलब्ध कराएगा। अभी तक नेपाल भारतीय दूरसंचार ऑपरेटर्स के ऑप्टिकल फाइबर कनेक्शन माध्यम से ही वैश्विक इंटरनेट नेटवर्क से जुड़ा हुआ था। सीटीजी द्वारा वर्ष 2016 में टेरेस्टियल फाइबर केबल प्रोजेक्ट की शुरुआत की गयी। यह सीमावर्ती जिलांग (रसुवगढ़ी) गेटवे के माध्यम से नेपाल को चीन से जोड़ेगी। 

फुल बेंच मिलकर सुलझाए जज विवाद : एससीबीए

नेपाल की मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नयी शुरू की गयी इंटरनेट सेवा चीन का हांगकांग डाटा सेंटर एशिया का सबसे बड़ा डाटा सेंटर है। चीन नेपाल की अपनी इस परियोजना को नए सिल्क रोड के निकटवर्ती देशों के विस्तृत डिजिटल नेटवर्क के रूप में देख रहा है।-एजेंसी 

प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई का ‘कठपुतली’ की तरह इस्तेमाल :कांग्रेस



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.