एर्दोओन के सलाहकार ने कहा, खशोगी की हत्या के बाद शव को नष्ट कर दिया गया

Samachar Jagat | Friday, 02 Nov 2018 05:53:28 PM
Khashoggi body was dissolved after murder

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

अंकारा। तुर्की के राष्ट्रपति रज्जब तैयब एर्दोआन के एक सलाहकार ने शुक्रवार को बताया कि इस्तांबुल स्थित सउदी अरब के वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के बाद उनका शव विखंडित कर उसे किसी तरल में घुला दिया गया था।


तुर्की के अधिकारी के हवाले से ये खबर वाशिगटन पोस्ट में आई है जिसके लिए खशोगी काम करते थे। अधिकारी अब यह पता लगा रहे हैं कि खशोगी के शव को तेजाब से तो नष्ट नहीं किया गया था।
एर्दोआन के सलाहकार और तुर्की के सत्तारूढ़ दल के एक पदाधिकारी यासिन आकते ने शुक्रवार को दैनिक हुर्रियत को बताया कि अब हम देखते हैं कि शव को केवल विखंडित नहीं किया गया था।

बल्कि इससे छुटकारा पाने के लिए शव को किसी तरल में घुला दिया गया। आकते ने कहा कि हमारे पास जो ताजा जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक शव को विखंडित इसलिए किया गया ताकि उसे किसी तरल में घोलने में आसानी हो।

सऊदी अरब के शाही परिवार के मित्र से आलोचक बने पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में उसे जबरदस्त अंतरराष्ट्रीय आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था। तुर्की के मुख्य अभियोजक ने बुधवार को पहली बार पुष्टि की कि 2 अक्टूबर को जैसे ही खशोगी ने वाणिज्य दूतावास में प्रवेश किया उनका गला घोंट दिया गया।

इसके बाद उनका शव विखंडित किया गया और उसके बाद उसे किसी तरल में घोल दिया गया। खशोगी के निकट रहे आकते ने कहा कि उनका लक्ष्य शव का कोई चिह्न नहीं छोड़ना था। उन्होंने कहा कि किसी व्यक्ति की हत्या एक अपराध है और शव के साथ जो किया गया वह दूसरा अपराध है और अपमान है।

तुर्की के अधिकारी के अवाले से वाशिंगटन पोस्ट ने कहा है कि वाणिज्य दूतावास के बगीचे में जैविक साक्ष्य मिला था। इससे यह संकेत मिलता है कि खशोगी की जहां हत्या की गई वहीं उसका निस्तारण कर दिया गया।

स्थानीय मीडिया में आई खबरों के मुताबिक  सउदी अरब के अधिकारियों ने वाणिज्य दूतावास के बगीचे की तलाशी की अनुमति तुर्की के पुलिस को नहीं दी, लेकिन विश्लेषण के लिए जल का नमूना लेने की अनुमति दे दी।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.