मलेशियाई विमान में सवार यात्रियों के परिजन विमान का मलबा खोजने अफ्रीका जाएंगे

Samachar Jagat | Monday, 21 Nov 2016 12:43:07 PM
मलेशियाई विमान में सवार यात्रियों के परिजन विमान का मलबा खोजने अफ्रीका जाएंगे

कुआलालंपुर। मलेशियाई एयरलाइंस के दो साल पहले लापता हुए विमान एम एच 370 पर सवार यात्रियों के परिजनों ने आज कहा है कि विमान का मलबा खोजने के लिए वे मेडागास्कर जाएंगे और यह पता लगाने की कोशिश करेंगे कि लापता विमान के साथ आखिर हुआ क्या था।

जांचकर्ताओं को किसी विमान के छह टूटे-फूटे हिस्से मिले थे जो संभवत उसी जेट विमान के थे जिसने मार्च 2014 में कुआलालंपुर से बीजिंग के लिए उड़ान भरी थी । उस विमान में 239 लोग सवार थे और यह एकाएक गायब हो गया था।

ट्रम्प को ब्रिटेन आने का न्योता देंगी एलिजाबेथ

लापता विमान में सवार लोगों के परिवारों ने एक संगठन वॉइस 370 बनाया है। इस संगठन का कहना है कि अब तक जो भी मलबा मिला है वह अफ्रीका के पूर्वी तट के आस-पास ही मिला है।

इस संगठन ने एक वक्तव्य में कहा, ‘जो कुछ भी मिला है वह महत्वपूर्ण खोज है उसके बावजूद किसी भी जिम्मेदार पक्ष ने व्यवस्थित और सुगठित तलाश की कोशिश नहीं की। जिसके चलते हमारे पास खुद इसके जवाब तलाशने के सिवा और कोई विकल्प नहीं रह जाता है।’

माना जाता है कि विमान दक्षिणी हिंद महासागर में दुघर्टनाग्रस्त हुआ था और इसकी तलाश यहीं पर की जा रही है लेकिन अब तक इसका कोई नतीजा नहीं निकला है और यह तलाशी अभियान भी जल्द ही बंद हो सकता है।

‘अमेरिका-चीन संबंध उतार-चढ़ाव के दौर में’

ग्रेस सबाथिराई नाथन, जिनकी मां एनी डेजी उस विमान में सवार थीं, उन्होंने बताया कि वह तीन अन्य मलेशियाई लोगों, चीन के दो व्यक्तियों और फ्रांस के एक व्यक्ति के साथ मेडागास्कर जाएंगी। उन्होंने बताया कि समूह तीन दिसंबर से 11 दिसंबर तक के इस दौरे का खर्च खुद उठा रहा है।                     -एजेंसी

 

Read More:

कुत्ते भी करते हैं आत्महत्या... स्कॉटलैंड का यह पुल है गवाह

किडनी फेल होने के संकेत

संवेदनशील त्वचा के लिए कोकोनट मिल्क बॉडी वॉश

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.