म्यामां रॉयटर के दो पत्रकारों को तत्काल रिहा करे: माइक पेंस

Samachar Jagat | Wednesday, 05 Sep 2018 06:48:09 PM
Mike Pence said Miman Reuters to release two journalists immediately

यांगून। अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने म्यामां से संवाद समिति रॉयटर के दो पत्रकारों को तत्काल रिहा करने को कहा है जिन्हें सरकारी गोपनीयता कानून के तहत दोषी करार दे कर सात-सात साल की सजा सुनाई गई है। रॉयटर के पत्रकारों - वा लोने और क्याव सो ओ- को सोमवार को सजा सुनाई गई। इसकी आलोचना दुनिया भर में हो रही है और अदालती सुनवाई को अनुचित बताया जा रहा है। इन दोनों पत्रकारों ने म्यामां की सेना के उग्रवादी रोधी क्रूरतम अभियान की रिपोर्टिंग की थी।

ट्रम्प की इस माह के अंत में ईरान पर सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाने की योजना : हेली

यह विषय म्यामां में बेहद संवेदनशील है क्योंकि सेना के मानवाधिकार अपराधों की आलोचना दुनिया भर में हो रही है। पेंस ने मंगलवार को ट्वीट किया कि इन दोनों पत्रकारों की तारीफ होनी चाहिए ना कि इन्हें मानवाधिकार उल्लंघन और बड़े पैमाने पर लोगों की हत्याओं को बेनकाब करने के लिए जेल भेजा जाना चाहिए।

'नेहरू के दंत चिकित्सक के बेटे हैं पाकिस्तान के नए राष्ट्रपति अलवी’

एक के बाद एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘ धर्म की स्वतंत्रता और प्रेस की स्वतंत्रता किसी भी मजबूत लोकतंत्र के लिए है।’ संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भी म्यामां के प्राधिकारियों को इस फैसले की समीक्षा करने की अपील करते हुए कहा, ‘ हम बर्मा की सरकार से इस फैसले को पलटने और तत्काल उन दोनों को रिहा करने की अपील करते हैं।’ दोनों पत्रकार की पत्नियों ने कहा कि वह सात साल की जेल की सजा की खबर से दुखी और स्तब्ध हैं।

सुरक्षा परिषद की ईरान पर बातचीत का अमेरिका नेतृत्व करेगा : हेली

वा लोने की पत्नी पान एई मोन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उन्होंने ऐसी कठोर सजा की उम्मीद नहीं की थी क्योंकि सब को पता है कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है। मोन 10 अगस्त को मां बनी हैं लेकिन उनके पति अपनी बेटी को अभी तक नहीं देख पाए हैं। क्याव सो ओ की पत्नी चित सू ने कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि उनके पति घर आएंगे। उनकी तीन साल की बेटी है। उन्हें सरकार से अब भी दया की उम्मीद है। एक पत्रकार के नाते उनके पति ने अपना फर्ज निभाया है और उन्हें इस पर गर्व है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.